इस बार बिहार चुनाव में मरने वालों की संख्या हुई कम

0

पिछले विधानसभा चुनाव के मुुकाबले इस साल बिहार चुनाव में 18 लोग कम मरे हैं लेकिन घायलों की संख्या बढ़ी है।

प्रेस इंफारमेशन ब्यूरो (पीआईबी) के मुताबिक 2010 की चुनावी हिंसा में 30 लोग मरे थे और 4 लोग घायल हुए थे जबकि इस साल 12 लोगों की मौत हुई है और 12 लोग घायल हुए हैं।

Also Read:  कर्नाटक के सांसदों के लिए शुरु होगी मिड डे मील सेवा

पीआईबी ने ट्वीट के माद्यम से यह जानकारी भी दी है की 2014 लोकसभा चुनाव के दौरान बिहार में 25 लोगों की मौत हुई थी और 3 लोग घायल हुए थे।

data

2010 में हुए बिहार विधानसभा चुनाव, 2014 में हुए लोकसभा चुनाव और 2015 विधानसभा चुनाव में पेड न्यूज, पोल का बहिष्कार, और पुन: मतदान में हुई कमी को भी दिखाया गया है।

Also Read:  एसीबी से नोटिस मिलने के बाद स्वाति मालीवाल का ट्वीट लिखा- कुछ नहीं छिपा है, जांच के लिए पूरी तरह सहयोग करूंगी

अगर पेड न्यूज की बात करें तो 2010 में 121, 2014 लोकसभा चुनाव में 6 और 2015 विधानसभा चुनाव में इसके 8 मामले सामने आए।

चुनाव बहिष्कार के मामले में 2010 में 43, 2015 में 26 और 2015 में 35 रहे, वहीं पुन: मतदान 15, 96 और 2 पर हुए ।

Also Read:  बिहार चुनाव: चौथे चरण के मतदान के लिए आज थमेगा प्रचार

दिए गए आंकड़ों के अनुसार कहा जा सकता है कि चुनाव आयोग की कोशिश कि चुनाव में हिंसा कम हो काफ़ी हद तक सफल रही ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here