शूटर बेटी का सपना पूरा करने के लिए, ऑटो चालक पिता ने बेटी को गिफ्ट में दी 5 लाख की राइफल

0

गुजरात के अहमदाबाद में एक ऑटो रिक्शा ड्राइवर ने अपनी राष्ट्रीय स्तर की निशानेबाज बेटी को जर्मनी में बनी पांच लाख रुपये की राइफल भेंट की। यह राशि इस ड्राइवर ने अपनी 27 साल की बेटी की शादी के लिए रखी हुई थी

भाषा की खबर के अनुसार, मनीलाल गोहली (50 वर्ष) ने अपनी जिंदगी की कमाई खर्च करने का फैसला अपनी बेटी के जुनून को पूरा करने के लिए किया। गोहली ने अपनी बेटी मित्तल को निशानेबाजी का सपना पूरा कर राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय चैम्पियनशिप में पदक जीतकर देश को गौरवान्वित करने के लिए यह निर्णय लिया।

Also Read:  Auto driver held for 'raping' Gurgaon bar attendant, denies charge

गोहली ने कहा, ‘मित्तल ने जब से 2012 में शौक के तौर पर निशानेबाजी में हाथ आजमाए, तभी से विभिन्न चैम्पियनशिप में भाग लेना शुरू कर दिया। हम राइफल का खर्चा नहीं उठा सकते थे तो वह अन्य निशानेबाजों और राइफल क्लब से उधार लेती थी। लेकिन मैंने महसूस किया कि उसे राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर की चैम्पियनशिप में पदक हासिल करने के लिए शीर्ष स्तर की राइफल की जरूरत है।

Also Read:  अखिलेश यादव के मेहमान को पहुंचाने वाले 'रिक्शा चालक' मनीराम की चमकी किस्मत, सीएम देगें मकान और बच्चों की पढ़ाई का इंतजाम 

गोहली प्रतिदिन 500 रुपये कमाते हैं, वह अपने परिवार के साथ गोमतीपुर में रहते हैं, जिसमें मित्तल और दो बेटे शामिल हैं. उन्हें अपने बेटे से भी मदद मिलती है, जो केबल नेटवर्क व्यवसाय में है।

गोहली ने कहा, ‘हर पिता की तरह मैं भी मित्तल की शादी के लिए पैसा बचाता था। लेकिन मैंने महसूस किया कि उसे बेहतर प्रदर्शन करने के लिए राइफल की जरूरत है। इसलिए मैंने अपनी बचत राशि का इस्तेमाल 50 मीटर की रेंज की जर्मनी में बनी राइफल खरीदने में किया जो पांच लाख रुपये की है। पिता के तौर पर यह सुनिश्चित करना मेरा कर्तव्य है कि मेरी बेटी को अपने जुनून को पूरा करने में किसी तरह की मुश्किल का सामना नहीं करना पड़े’

Also Read:  India, Bangladesh to complete historic land swap today after nearly four decades

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here