सोने लूटने के आरोप में असम रायफल्स का कमांडेंट गिरफ्तार

0

म्यांमार से तस्करी कर लाए जा रहे 14.5 करोड़ रुपए के सोने की हाइवे पर हुई लूट में अहम भूमिका निभाने के आरोप में असम रायफल्स की 39वीं बटालियन के कर्नल जसजीत सिंह को आइज़ोल से गिरफ्तार किया गया है।
army

कर्नल जसजीत सिंह पर कथित रूप 14 दिसम्बर 2015 की रात को अत्याधुनिक हथियारो से लैस अपने जवानो को दक्षिणी आइज़ोल इलाके में सोने से भरे तस्करी के ट्रक को लूटने के आदेश देने का आरोप है।

लूट का ये मामला 21 अप्रैल 2016 को उस वक़्त सामने आया जब लूटे गए वाहन के ड्राइवर लालनुनफेला ने आइज़ोल पुलिस थाने में एफआइआर दर्ज कराई। एफआइआर में कहा गया है कि असम रायफल्स के सशस्त्र लोगों ने उससे सोने के 52 बिस्कुट लूट लिए। बंदूक की नौक पर उसे मुंह बंद रखने की धमकी दी गई। लालनुनफेला ने दोस्त द्वारा हिम्मत बढ़ाने पर शिकायत दर्ज कराने का फैसला लिया।

लूट में शामिल रहे आठ असम रायफल्स के जवानों ने पुलिस की पूछताछ में बताया कि उन्हें इस काम के लिए अपनी बटालियन के कमांडेंट कर्नल जसजीत सिंह से आदेश मिला था।

22 अप्रैल 2016 को पुलिस ने छह सदस्यीय एसआइटी गठित कर मामले की जांच शुरू कर दी थी और दो दिन के अंदर ही एक छात्र नेता और व्यापारी समेत 4 लोगो को गिरफ्तार भी किया था। पूरे मामले के खुलासे के बाद पुलिस ने डकैती, आपराधिक साजिश जैसी गंभीर धाराओ में मुकदमा दर्ज किया है। गुरुवार को कर्नल जसजीत सिंह ने जिला एवं सत्र न्यायालय में अग्रिम जमानत की अर्जी दी जिसे अदालत ने खारिज कर दिया। पुलिस ने अदालत से ही कर्नल जसजीत सिंह को गिरफ्तार कर लिया। कर्नल जसजीत सिंह की गिरफ्तारी के बाद कल असम रायफल्स ने भी उन्हे सस्पैंड कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here