संसद में अम्बेडकर समारोह, अनुपस्थित प्रधानमंत्री पर उठे सवाल

0

सारे देश में आज 14 अप्रैल को बाबा साहेब के जन्मदिन के मौके पर पर श्रद्धांजलि समारोह मनाया जा रहा है। आज संसद परिसर में बाबा साहेब के 125वीं जयंती के मौके पर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी सहित कई केंद्रीय मंत्री समारोह में शामिल हुए लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मौजूद नहीं रहे।

मोदी जी ने हमेशा ही दलितों के विकास और उत्थान के लिये बढ़ी-बढ़ी बातें कहीं है लेकिन 125वीं जयंती के मौके पर संसद परिसर के कार्यक्रम में अनुपस्थि होकर विरोधियों को अपने पर वार करने का एक मौका दे गए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज मैरीटाइम इंडिया समिट के कार्यक्रम के लिए मुंबई में हैं।

Also Read:  Head of Delhi government run children home sexually assaulted minor girls, filmed his acts

प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधते हुए कांग्रेस के राज्यसभा सांसद पीएल पुनिया ने कहा है कि अब तक की परंपरा रही है कि इस कार्यक्रम में हर साल प्रधानमंत्री शामिल होते रहे हैं। परंपरा यही रही है कि संसद परिसर के कार्यक्रम में पीएम मौजूद रहते हैं और उन्हें मौजूद रहना चाहिए था। आगे उन्होंने कहा कि केवल दिखावे में शामिल होने से काम नहीं चलेगा। बाबा साहेब का जो संघर्ष है वो ज्यादा अहम है।

Also Read:  Car-free Connaught Place will reduce pollution, 'boost' business

हालांकि आज दोपहर में प्रधानमंत्री एक बड़ी रैली मध्यप्रदेश के महू में करने जा रहे है। जहां वे अपने दलित प्रेम के बारें में लोगों को बताएगें। इसके लिये शासन और प्रशासन ने जिले के प्रत्येक स्कूल से 100 छात्रों को बसों में अनिवार्य रूप से भरकर रैली में ले जाने का काम भी करना है, क्योंकि ये कलेक्टर का आदेश था। मोदी जी चाहते है कि जब वो भाषण दे तो सारा मैदान खचाखच भरा हुआ होना चाहिए।

Also Read:  Subramanian Swamy says homosexuality is a genetic disorder

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here