बिहार में पैकेज को लेकर बढ़ रहा विवाद, जयराम रमेश ने कहा, मोदी ‘एक्शन पीएम’ नहीं, ‘ऑक्‍शन पीएम’ हैं

0

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिस तरीके से बिहार के लिए 1.25 लाख करोड़ रुपये के विशेष पैकेज की घोषणा की उससे वे ‘एक्शन पीएम’ के बजाय ‘ऑक्‍शन पीएम’ ज़्यादा लगे। साथ ही यह भी कहा कि बिहार राज्य की जनता अपने आत्मसम्मान का इस तरह से मजाक उड़ाए जाने को बर्दाशत नहीं करेगी।

पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने आज पटना में आरोप लगाया कि मोदी ‘एक्शन पीएम’ के बजाय ‘ऑक्‍शन पीएम’ हैं।

उन्होंने कहा, “उन्होंने कोल ब्लाक और स्पेक्ट्रम की बोली लगाई। दो दिनों पूर्व उन्होंने बिहार की बोली लगाकर इस राज्य का मजाक उड़ाया। इस राज्य की जनता अपने आत्मसम्मान का मजाक उड़ाए जाने को बर्दाश्त नहीं करेगी।”

जयराम ने आरोप लगाया कि जिस तरीके से मोदी अपने द्वारा दिए जाने वाले विशेष पैकेज (50 हजार करोड़ रुपये, 60 हजार करोड़ रुपये, 70 हजार करोड़ रुपये या उससे अधिक) के बारे में भीड़ से पूछ रहे थे उससे यही लगता है कि वे बिहार की जनता के आत्मसम्मान के साथ खिलवाड़ कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि मोदी द्वारा घोषित विशेष पैकेज में 90 प्रतिशत योजनाएं वर्ष 2011 से 2014 के बीच की, यानी NDA सरकार के समय की ही हैं। जयराम ने मोदी के इस विशेष पैकेज को लोकसभा चुनाव के पूर्व बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने के वादे को पूरा करने से बचने के लिए पुरानी योजनाओं की आगामी सितंबर-अक्तूबर में संभावित बिहार विधानसभा चुनाव के पहले की गई ‘रिपैकेजिंग’ बताया है।

साथ ही उन्होंने कहा कि कांग्रेस को इस बात का डर है कि बिहार विधानसभा चुनाव के पूरा होने पर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह कहीं इसे भी चुनावी जुमला करार नहीं दे दें जैसा कि उन्होंने लोकसभा चुनाव के समय मोदी द्वारा कालाधन वापस लाने के बारे में किए गए वादे के संबंध में कहा था। जयराम ने आरोप लगाया कि भगवा पार्टी केवल सुर्खियां बटोरने के लिए पैकेज और विकास की बात कर रही है, पर हकीकत में वह आगामी विधानसभा चुनाव में वोट का सांप्रदायिक ध्रुवीकरण करने में लगी हुई है।

 

LEAVE A REPLY