पिता की हत्या के बाद सरताज बोला, “सारे जहां से अच्छा हिन्दोस्तां हमारा”

0

अपने पिता मोहम्मद अखलाक के हत्या पर उनके बेटे सरताज ने असाधारण धैर्य का परिजय देते हुए कहा है, “ सारे जहां से अच्छा हिन्दोस्तां हमारा।”

यह बात सरताज ने एक निजी चैनल को दिए गए साक्षात्कार के दौरान कहा। सरताज भारतीय वायुसेना में इंजिनियर के पद पर काम कर रहा है, जबकि उसका छोटा भाई दानिश अभी अस्पताल में जिंदगी और मौत की जंग लड़ रहा है। दानिश भी अपने पिता के साथ वहीं मौजूद थे जहां गौ मांस रखने की अफवाह के कारण 29 सितंबर को उन पर भी हमला किया गया था। इसमें अखलाक की मौत हो गई जबकि दानिश गंभीर अवस्था में अस्पताल लाए गए थे।

सरताज ने कहा, “मुझे कभी उम्मीद नहीं थी की मेरे परिवार के साथ ऐसा किया जा सकता है। क्योंकि मेरे परिवार का पड़ोसियों के साथ अच्छे संबंध थे, इसलिए मैं कभी इसकी कल्पना भी नहीं कर सकता था।“

उन्होंने कहा कि मैं उम्मीद करता हूं कि इस मुद्दे पर नेता लोग सियासत नहीं करेंगे। इस घटना को लेकर सरताज ने एक पत्र भी लिखा है जिसमें नेताओं और मीडिया को अपने घर आने के लिए मना किया गया है।

सरताज ने कहा, “सभी देशवासियों से उम्मीद करता हूं कि मेरे भाई के स्वास्थ्य के लिए प्रार्थना करें।” उन्होंने आग्रह किया कि सभी लोग आपसी सौहाद्र बनाकर रहें क्योंकि, “सारे जहां से अच्छा हिन्दोस्तां हमारा…मजहब नहीं सिखाता आपस में वैर करना।”

LEAVE A REPLY