दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने किया संजय गांधी अस्पताल का औचक निरीक्षण

0

दिल्ली में पिछले दिनों एक सात वर्षीय बच्चे की डेंगू से हुए मौत ने सरकार को भी सजग कर दिया है। इसका नजारा आज तब देखने को मिला जब दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने रविवार दोपहर को संजय गांधी अस्पताल का औचक निरीक्षण किया।

पिछले दिनों एक बच्चे की डेंगू से इस कारण मौत हो गई क्योंकि बच्चे को समय रहते अस्पताल में भर्ती नहीं किया गया। इस कारण जब तक बच्चे को दिल्ली के ही बत्रा अस्पताल ले जाया गया बच्चे की स्थिति और खराब हो गई और उसकी मौत हो गई। बच्चे के मौत होने के बाद बच्चे के मां-बाप ने भी खुदकुशी कर ली, जो कि अपने बच्चे की मौत का सदमा झेल न सके।

इसके बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने यहां तक कहा कि उन दोषी अस्पताल के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी जिन्होंने 7 साल के बच्चे को अपने यहां भर्ती करने से मना कर दिया था। उन्होंने कहा कि इसे कतई बर्दाश्त नही किया जा सकता।

साथ ही शनिवार को 7 साल के अविनाश की डेंगू से हुई मौत पर दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने शो कॉज नोटिस भी जारी किया। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने भी कहा था कि य़ह एक दुखद घटना है, दिल्ली सरकार से रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए कहा गय़ा है।

स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन ने तब कहा था कि, हम दोनों अस्पतालों को नोटिस (मैक्स साकेत व मूलचंद) जारी करेंगे, और मामले कि जांच करेंगे, फिर जो भी जिम्मेदार होगा उसको सख्ती से दंडित किया जाएगा।

लेकिन आज यानी की रविवार को जब सत्येंद्र जैन ने अस्पताल का दौरा किया तो इस दौरान उन्होंने कहा, “एक ही बेड पर दो रोगी को मैने अपने औचक निरीक्षण के दौरान देखा, हम इससे इनकार नहीं कर सकते ।“

LEAVE A REPLY