मालेगांव ब्लास्टः वकील को मिल रहे दबाव को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को भेजा नोटिस

0

सुप्रीम कोर्ट ने आज केंद्र सरकार, राष्ट्रीय जांच एजेंसी और महाराष्ट्र सरकार को नोटिस भेजा है। इस नोटिस में सुप्रीम कोर्ट ने जवाब मांगा है कि विशेष सरकारी वकील रोहिणी सलेन के ऊपर क्यों दबाव बनाया जा रहा है कि वे आरोपी के साथ नरम रुख अपनाएं।

Also Read:  Preliminary probe launched into allegations of irregularities against Kejriwal

यह पेटीशन मालेगांव ब्लास्ट के एक पीड़ित और एक एक्टिविस्ट हर्ष मंडेर द्वारा डाला गया था जिसमें कहा गया था कि केंद्र सरकार और महाराष्ट्र की राज्य सरकार रोहिणी सलेन के ऊपर दबाव बना रहे हैं।

रोहिणी सलेन ने ये भी आरोप लगाया था कि राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी के एक अफसर ने उन्हे यहां तक धमकी दी थी कि अगर उन्होंने ऐसा नही किया तो उन्हे आतंक विरोधी वकीलों के पैनल से निकाल दिया जाएगा। वो अब ईस पैनल का हिस्सा नही हैं।

Also Read:  अब पढ़े-लिखे ही लड़ सकेंगे हरियाणा में पंचायत चुनावः सुप्रीम कोर्ट

इस पेटिशन के द्वारा यह भी मांग की गई है कि एक विशेष सरकारी वकील नियुक्त किया जाए जो 2008 में हुए मालेगांव ब्लास्ट की जांच करे और इसकी निगरानी कोर्ट की देख-रेख में ही CBI द्वारा कराया जाय।

Also Read:  MCD चुनाव में BJP की प्रचंड जीत, कांग्रेस और AAP की शर्मनाक हार, जानिए- नतीजों पर किसने क्या कहा?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here