भारत, मिस्र में समुद्री परिवहन पर करार

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को भारत और मिस्र के बीच समुद्री परिवहन से संबंधित एक करार पर हस्ताक्षर किए जाने को मंजूरी दे दी है।

जहाजरानी के क्षेत्र में दोनों देशों के आपसी सहयोग से मिलने वाले लाभ और महत्व को देखते हुए इस समझौते पर हस्ताक्षर करने का फैसला किया गया है। समझौते के जरिए दोनों देशों के बीच मर्चेट शिपिंग और अन्य समुद्र संबंधी मामलों में सलाह ली जा सकेगी। साथ ही इस क्षेत्र में आपसी सहयोग को और मजबूत बनाया जाएगा।

Also Read:  All must support PM Narendra Modi on demonetisation: Actor Aamir Khan

पारस्परिक सुविधाजनक तिथि और स्थान के हिसाब से समझौते पर हस्ताक्षर किए जाएंगे।

इस समझौते से समुद्री संबंध के क्षेत्र में दोनों देशों के बीच आपसी सहयोग बढ़ेगा और रिश्ते मजबूत होंगे। इससे समुद्री यातायात को और बेहतर बनाया जा सकेगा, प्रशिक्षण के लिए विभिन्न समुद्री प्रतिष्ठानों से छात्रों और स्टाफ का आदान-प्रदान किया जा सकेगा।

Also Read:  Lack of employment in UP forcing people to migrate: Smriti Irani

इसके साथ ही समुद्र और बंदरगाहों पर वाणिज्यिक माल के प्रवाह को सुविधाजनक बनाया जा सकेगा, समुद्री परिवहन, जहाज निर्माण और मरम्मत, समुद्री प्रशिक्षण, सिमुलेटर्स के विकास समेत सूचना प्रौद्योगिकी, बंदरगाहों के विकास और अन्य समुद्री गतिविधियां आदि के क्षेत्र में संयुक्त उपक्रमों की स्थापना की जा सकेगी।plastic-india-flags_650x400_81437318745

Also Read:  Modi must be punished because he has cheated people, says Ram Jethmalani

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here