बिहार चुनाव : दशहरा के दिन चुनाव प्रचार से दूर रहेंगे नेता

0

बिहार विधानसभा चुनाव के मद्देनजर लगातार चुनावी सभाओं में व्यस्त रहे नेता गुरुवार को दशहरा के दिन आराम फरमाएंगे। इस कारण चुनावी प्रचार में लगे हेलीकॉप्टर भी इस दिन उड़ान नहीं भरेंगे। हालांकि दशहरा के दूसरे दिन यानी शुक्रवार से नेता चुनावी सभा को संबोधित करेंगे। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार दशहरा के दिन चुनावी सभा को संबोधित नहीं करेंगे। जनता दल (युनाइटेड) के एक नेता की मानें तो मुख्यमंत्री दशहरा के दिन गांधी मैदान में आयोजित रावण वध कार्यक्रम में भाग ले सकते हैं, हालांकि अभी यह कार्यक्रम तय नहीं हुआ है।

इधर, सत्ताधारी महागठबंधन के घटक दल राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष लालू प्रसाद भी गुरुवार को चुनावी सभा को संबोधित नहीं करेंगे। तय कार्यक्रम के अनुसार, लालू अपने पटना स्थित आवास पर ही रहेंगे और लोगों से मिलेंगे।

इधर, हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) के प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी अपने पैतृक आवास गया जिले के महकार जाएंगे और वहीं दशहरा मनाएंगे। हम के प्रवक्ता दानिश रिजवान के अनुसार, मांझी शनिवार से फिर चुनाव प्रचार में लगेंगे।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेताओं के हेलीकॉप्टर भी दशहरा के दिन उड़ान नहीं भरेंगे। भाजपा के मीडिया प्रभारी राकेश कुमार ने बताया कि सुशील कुमार मोदी, नंदकिशोर यादव समेत प्रदेश और राष्ट्रीय स्तर के सभी नेता दशहरा के दिन चुनाव प्रचार से दूर रहेंगे परंतु पटना में लोगों से मिलेंगे।

इधर, लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के प्रमुख रामविलास पासवान और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के प्रमुख उपेन्द्र कुशवाहा भी दशहरा के दिन चुनाव प्रचार से अलग रहेंगे।

उल्लेखनीय है कि नीतीश कुमार, लालू प्रसाद, सुशील मोदी समेत कई ऐसे नेता हैं जो बिहार विधानसभा के चुनाव प्रचार प्रारंभ होने के बाद से प्रतिदिन चार से छह चुनावी सभा कर रहे हैं।

बिहार विधानसभा की कुल 243 सीटों के लिए 12 अक्टूबर से पांच नवंबर के बीच पांच चरणों में मतदान होना है। पहले और दूसरे चरण में 81 सीटों पर मतदान हो चुका है। सभी सीटों के लिए मतगणना आठ नवंबर को होगी।

Pizza Hut

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here