एम्बुलेंस मोदी की रैली में, मरीज़ों ने टैक्सी सेवा का सहारा लिया

0

शनिवार को जब मरीज़ो ने गुड़गांव के दो सरकारी अस्पतालों में एम्बुलेंस के लिए फ़ोन किया तो उनको पता चला की अस्पतालों में एक भी एम्बुलेंस नहीं है, पता करने पर जानकारी मिली की सभी एम्बुलेंस रविवार को फरीदाबाद में होने वाली प्रधानमंत्री की रैली के लिए गयी हुईं हैं। जिसके बाद सभी मरीज़ो को कैब्स का सहारा लेना पढ़ा।

एक अंग्रेजी अखबार में छपी खबर के अनुसार, मरीजों ने बताया कि उनको एंबुलेंस के लिए घंटों इंतजार करने के लिए मजबूर किया गया, और अंत में अस्पतालों तक पहुंचने के लिए कैब्स का सहारा लेना पड़ा।

Also Read:  Mulayam defends son, says no one person responsible for SP's defeat

जानकारी के मुताबिक करीब दो एनेस्थेटिस्ट, दो ऑर्थोपेडिस्ट्स और दो सर्जन सहित छह डॉक्टरों की एक टीम भी फरीदाबाद के लिए भेजी गई है। डॉक्टरों की माने तो लगभग 14 अम्बुलन्सेस अब तक फरीदाबाद भेज दी गईं हैं, जिसमें गुड़गांव से दो मोबाइल आईसीयू, पलवल, मेवात और रेवाड़ी से प्रत्येक दो दो और दो एम्बुलेंस गुड़गांव के निजी अस्पतालों से भेजी गईं हैं। शेष चार फरीदाबाद के सिविल अस्पताल से हैं।

Also Read:  Mehbooba wants Wakf Board to be revamped

बादशाह खान, सिविल अस्पताल के डॉक्टर ने कहा, ” फरीदाबाद में कुल 13 एंबुलेंस हैं, जिसमें से 4 एम्बुलेंस रैली के लिए भेजी गईं हैं। ” जबकि चार आईसीयू एंबुलेंस PM के लिए पूरी तरह र्सर्वे की गईं हैं। छह रैली के मैदान भर में विभिन्न स्थानों पर खड़ी होगी, और चार वीवीआईपी के लिए आरक्षितकृ जाएंगी।

Also Read:  गुडगाँव में युवती से किया सामूहिक बलात्कार, सभी आरोपी गिरफ्तार

मुख्य चिकित्सा अधिकारी पुष्पा विश्नोई कहतीं हैं,”मुझे नही लगता ये कोई चर्चा का मुद्दा है, हमारे पास और भी अम्बुलन्सेस हैं कुछ दिनों में आसानी से उनका प्रबंध हो जाएगा”

हाल ही में फरीदाबाद में होने वाली रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी परिधि के भीतर आने वाले नौ मेट्रो स्टेशनों का उद्घाटन करेंगे, जिसमें 13.875 कि.मी. की वायलेट लाइन आती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here