जेएनयू ने खारिज़ किया केंद्र सरकार द्वारा प्रस्तावित योग कोर्स

0

जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) ने बीजेपी शासित केंद्र सरकार के द्वारा प्रस्तावित किया योग कोर्स को शार्ट टर्म कोर्सेज में शामिल करने से खारिज कर दिया है ।

यह फैसला यूनिवर्सिटी कॉउंसिल ने लिया है ।

योग कोर्स से विश्व में भारतीय मूल्यों, आध्यात्मिक और पौराणिक परम्पराओं के प्रचार को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार द्वारा प्रस्तावित किया गया था ।

Also Read:  केंद्र सरकार से थोड़ी राहत, अब बैंक और एटीएम से निकाल सकेंगे ज्‍यादा रकम

जेएनयू के सामने तीन शार्ट टर्म कोर्सेज शुरू करने का प्रस्ताव भेजा गया था जिस में से किसी भी कोर्स को जगह नहीं दी गई है।

यह प्रस्ताव उस समय खारिज हुआ है जब केंद्र सरकार पर भगवाकरण और पक्षपात का आरोप लगातार लगने लगा है।

Also Read:  पूर्व बीजेपी नेता शादी में खर्च करेंगे 500 करोड़, 16 नवंबर को बैंगलोर पैलेस में होगी शादी

स्मृति ईरानी के मंत्रालय और यूजीसी ने साथ मिल कर ये प्रस्ताव बनाया था जिसके जरिये भारत के पुराण शास्त्रों में लिखी बातों को देश के युवाओं को बताया जा सके ।

Also Read:  पेट्रोल पंप पर दो दिसम्बर तक ही चलेंगे 500 के नोट, सरकार ने घटाई अवधि, 15 से घटाकर 2 दिसम्बर किया

हिंदूवादी संगठन आरएसएस ने मौजूदा केंद्र सरकार से संस्कृत और योग जैसे कोर्सेज को स्कूलों और यूनिवर्सिटीज में पढ़ाने के लिए प्रस्ताव को अमली जमा पहनाने में अपनी एड़ी चोटी का जोर लगा रही है है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here