एड्स से हुई व्यक्ति की मौत, गांव वालों ने श्मशान में नहीं करने दिया अंतिम संस्कार कहा-श्मशान में जलाया तो पूरे गांव में फैल जाएगा एड्स

0
>

ओडिशा में एक व्यक्ति का अंतिम संस्कार सामुदायिक श्मशान घाट पर करने की इजाजत नहीं मिली। मजबूरन परिवार को घर के पीछे उसका अंतिम संस्कार करना पड़ा। मामला बालासोर जिले का है, जहा 35 साल के एक शख्स की एड्स से मौत हो गई थी।

गांव वालों ने मृतक के परिजनों को सार्वजनिक रूप से अंतिम संस्कार के लिए इस्तेमाल होने वाली जगह का इस्तेमाल नहीं करने दिया। ग्रामीणों का कहना था कि अगर उसे सामुदायिक श्मशान घाट पर जलाया गया, तो पूरे गांव में एड्स रोग फैल जाएगा।

Also Read:  Odisha's 'Google girl' invents low-cost water purifier

odisha-hiv

इसलिए ग्रामीणों ने सामुदायिक श्मशान घाट पर शव के अंतिम संस्कार की इजाजत नहीं दी। ऐसे में मजबूर होकर परिवार वालों ने घर के पीछे ही शव का अंतिम संस्कार किया। बताया जा रहा है कि शुक्रवार को ओडिशा के कटक स्थित एक अस्पताल में एड्स के इलाज के दौरान इस शख्स की मौत हो गई थी।

Also Read:  मदर्स डे 2017: बेहद खास है 'मां' की ममता बने ये विज्ञापन, आपका दिल जीत लेंगे

अंतिम संस्कार के लिए परिवारवाले शव को तेंतेई गांव में लेकर आए, लेकिन ग्रामीणों ने उन्हें अंतिम संस्कार करने से रोक दिया। इस घटनाक्रम पर पुलिस का कहना है कि मृतक के परिजनों से बातचीत कर मामले की जांच की जा रही है।

Also Read:  ओड़िशा में पत्नी के शव को कंधे पर ढोने वाले शख्स पर भावुक हुए बहरीन के प्रधानमंत्री, मदद की पेशकश

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here