जम्मू-कश्मीर: परिवार की पुकार सुन आतंकवादी बनने गया युवक घर लौटा

0

जम्मू कश्मीर के बडगाम जिले में आतंकवादी बनने के लिए घर छोड़ चुका एक कश्मीरी युवक गुरुवार (13 जून) को वापस अपने घर लौट आया। ख़बरों के मुताबिक, युवक कुछ दिन पहले लापता हो गया था। इसके बाद पता चला कि वह आतंकी बन गया है। तब उसके परिवार के हस्तक्षेप से वह वापस लौट आया।

जम्मू-कश्मीर
प्रतिकात्मक फोटो

समाचार एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस के एक प्रवक्ता ने गुरुवार को बताया कि बडगाम जिले का यह युवक आतंकवादी बनने के लिए लापता हो गया था क्योंकि वह कुछ निजी कारणों से परेशान था। प्रवक्ता ने कहा, ‘समय पर हस्तक्षेप करने, परिवार के सहयोग और बडगाम पुलिस के प्रयासों से उसे वापस आने के लिए राजी कर लिया गया।’

उन्होंने कहा कि पुलिस ने उसके लिए हर तरह की मदद सुनिश्चित की है, ताकि वह फिर से सामान्य जीवन जी सके। युवक की पहचान सुरक्षा कारणों से उजागर नहीं की गयी है।

बता दें कि, पिछले साल जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग के बेहतरीन फुटबॉलरों में शामिल 20 वर्षीय माजिद खान लश्कर-ए-तैयबा में शामिल हो गया था। लेकिन, फुटबॉलर से आतंकी बने माजिद खान ने 17 नवंबर को सुरक्षा बलों के सामने सरेंडर कर दिया है। माजिद खान की मां ने मीडिया के माध्यम से गुरुवार को ही उसले वापस आने की अपील की थी।

ख़बरों के मुताबिक, पिछले साल अक्टूबर महीने के आखिरी दिनों में वह माजिद खान लश्कर-ए-तैयबा में शामिल हो गया था। ऐसा माना जा रहा है कि खिलाड़ी अपने दोस्त यावर निसार शेरगुजरी के अंतिम संस्कार में हिस्सा लेने के बाद आतंकवादी संगठन में शामिल हो गया था।

Pizza Hut

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here