मुख्यमंत्री योगी ने नोएडा पहुंचकर तोड़ा बरसों पुराना राजनीतिक मिथक

0

आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नोएडा पहुंचकर एमिटी यूनिवर्सिटी का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने मेट्रो के उद्घाटन से संबधित जानकारियों के बारें में मालूम किया और PM मोदी के आने वाले कार्यक्रम की समीक्षा की। 25 दिसंबर को दिल्ली मेट्रो की मजेंटा लाइन के एक हिस्से की शुरुआत होने वाली है। कालकाजी मंदिर से बोटेनिकल गार्डन के लिए शुरू होने वाली इस लाइन का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेगें।

योगी आदित्यनाथ
Photo Courtesy: ANI

आपको बता दे कि काफी समय से यह राजनीतिक मिथक चला आ रहा है कि मुख्यमंत्री रहते हुए जो भी व्यक्ति नोएडा आता है उसकी सत्ता हाथों से चली जाती है। अब इस मिथक को तोड़ते हुए सीएम योगी ने पहली बार नोएडा का दौरा किया और प्रधानमंत्री के कार्यक्रम का जायजा लिया।

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, 1989 में एनडी तिवारी नोएडा गए…उनकी कुर्सी चली गई. राजनाथ सिंह ने 2001 में नोएडा फ्लाईओवर का उद्घाटन दिल्ली छोर से किया. साल 2006 में मुलायम के सीएम रहते निठारी कांड हुआ…आंदोलन हुआ…सरकार हिल गई, लेकिन नोएडा नहीं गए…2011 में मायावती नोएडा गईं तो उनकी कुर्सी चली गई. अखिलेश यादव कभी नोएडा नहीं गए. नोएडा से गुजरने वाले यमुना एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन भी लखनऊ से किया.

मेट्रो की इस विस्तारित लाइन से नोएडा से फरीदाबाद जाने वाले यात्रियों को सबसे ज्यादा फायदा होगा, जिसके बाद कालकाजी मंदिर के जंक्शन लाइन बनने से उस दिशा में जाने वाले यात्रियों के समय में बचत होगी।

वहीं इस मार्ग पर अत्याधुनिक संचार आधारित ट्रेन नियंत्रण (सीबीटीसी) सिग्नल तकनीक भी सेवा में लगाई जाएगी, जिसकी मदद से ट्रेन की आवाजाही 90-100 सेकंड के भीतर हो सकेगी। हालांकि प्रारंभिक अवधि में 2-3 साल तक ट्रेन में चालक होंगे। फिलहाल नोएडा से दक्षिणी दिल्ली के इलाकों में जाने के लिए मंडी हाउस पर मेट्रो बदलकर ब्लू लाइन से वायलेट लाइन पर जाना होता है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here