सोनभद्र नरसंहार पर सियासत गर्म: प्रियंका गांधी के बाद आज पीड़ित परिवारों से मिलने उम्भा गांव जाएंगे सीएम योगी आदित्यनाथ

0

उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले में 10 लोगों की जघन्‍य हत्‍या के मामले में राजनीति गरमा गई है। विपक्ष के हमलावर तेवर के बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज यानी रविवार (21 जुलाई) को सोनभद्र जिले का दौरा कर हत्याकांड के पीड़ित परिवार वालों से मिलेंगे। यह जानकारी उत्तर प्रदेश सरकार के एक अधिकारी ने शनिवार को दी।

File Photo: Reuters

इससे पहले प्रियंका गांधी वाड्रा और मिर्जापुर जिला प्रशासन के बीच चल रहा गतिरोध शनिवार दोपहर कांग्रेस महासचिव के सोनभद्र हत्याकांड के पीड़ित परिवारों से मुलाकात के साथ ही समाप्त हो गया। इसके साथ ही रविवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हत्याकांड के घटनास्थल सोनभद्र के उम्भा गांव जाएंगे।

एक अधिकारी ने बताया कि मुख्यमंत्री सोनभद्र की घोरावल तहसील स्थित उम्भा-सपही गांव पहुंचकर सुबह 11.45 बजे मृतकों के परिजन से भेंट करेंगे। अधिकारी ने बताया कि इसके बाद वह घायलों से मिलकर उनका हालचाल जानेंगे और दोपहर में जिला कलेक्ट्रेट में प्रेस को संबोधित करेंगे।

गौरतलब है कि ग्राम प्रधान यज्ञदत्त के समर्थकों और गोंड आदिवासियों के बीच घोरावल तहसील में भूमि विवाद को लेकर बुधवार को हुए संघर्ष में 10 लोगों की हत्या कर दी गई थी जबकि 28 अन्य जख्मी हो गए थे। 10 लोगों की जघन्‍य हत्‍या के मामले में उत्‍तर प्रदेश में राजनीति गरमा गई है।

प्रियंका गांधी को हिरासत में लिया गया

प्रियंका गांधी को शुक्रवार को तब हिरासत में ले लिया गया था जब वह हत्याकांड के पीड़ित परिवारों से मिलने के लिए सोनभद्र जाने को लेकर अड़ गई थीं। शनिवार को मिर्जापुर गेस्टहाउस में पीड़ित परिवारों के कुछ लोगों से मिलने के बाद कांग्रेस महासचिव दिल्ली रवाना हो गईं। प्रियंका ने बीती रात गेस्टहाउस में ही गुजारी थी और निजी मुचलका भरने की स्थानीय प्रशासन की पेशकश को मानने तथा वहां से जाने से इनकार कर दिया था।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दशकों से चले आ रहे जमीन विवाद के लिए पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकारों पर हमला बोलते हुए शुक्रवार को कहा था कि सोनभद्र संघर्ष के बाद 29 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। प्रियंका गांधी ने शुक्रवार को वाराणसी स्थित बीएचयू ट्रामा सेंटर में कुछ पीड़ितों से मुलाकात की थी, लेकिन उन्हें उम्भा गांव जाने से रोक दिया गया था। उन्हें और उनके समर्थकों को गेस्टहाउस ले जाया गया था।

10 लोगों की गोली मारकर हत्या

गोंड आदिवासी समुदाय के 10 लोग 17 जुलाई को तब मारे गए जब यज्ञदत्त नाम के एक ग्राम प्रधान और उसके समर्थकों ने सोनभद्र के उम्भा गांव में जमीन पर कब्जा लेने की कोशिश के दौरान कथित तौर पर गोलीबारी कर दी। इस घटना में 28 अन्य लोग घायल हुए हैं। इन आदिवासियों से मिलने प्रियंका गांधी भी शुक्रवार को पहुंची थीं, लेकिन प्रशासन ने उन्हें हिरासत में ले लिया। हालांकि, बाद में कुछ पीड़ित परिवारों के लोगों से उन्हें मिलने दिया गया।

फिलहाल, 10 लोगों की जघन्‍य हत्‍या के मामले में उत्‍तर प्रदेश में राजनीति गरमा गई है। मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने इस पूरे विवाद के लिए कांग्रेस सरकार को जिम्‍मेदार ठहराया है। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस के शासन काल के दौरान वनवासियों की जमीन को एक सोसायटी के नाम कर दिया गया। सीएम ने कहा कि एक तीन सदस्‍यीय जांच कमिटी बनाई गई है, जो 10 दिन के अंदर अपनी रिपोर्ट देगी।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here