VIDEO: ‘अपनी बकवास बंद करो’, सीएम योगी आदित्यनाथ की फटकार के बाद नोएडा के DM ने मांगी छुट्टी, किया गया तबादला

0

गौतमबुधनगर में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोमवार को नोएडा पहुंचे और प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक की। मुख्यमंत्री ने गौतमबुधनगर विश्वविद्यालय में जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग, नोएडा ग्रेटर, नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों, पुलिस अधिकारियों तथा उत्तर प्रदेश शासन के कई वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की।

बैठक के दौरान उन्होंने जिलाधिकारी बीएन सिंह तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी अनुराग भार्गव को जमकर फटकार लगाई। इस दौरान जिलाधिकारी बीएन सिंह ने सफाई देनी चाही तो सीएम योगी नाराज हो गए और उन्होंने कहा कि अपनी बकवास बंद करिए। इस पूरे वाक्य का एक वीडियो भी सामने आया है, जो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

वहीं, योगी आदित्यनाथ से मिली फटकार के बाद गौतमबुद्धनगर के जिलाधिकारी ने तीन महीने की छुट्टी मांगी है। उन्होंने एक पत्र लिखकर कहा कि मैं नोएडा में काम नहीं करना चाहता। बीएन सिंह की ओर से छुट्टी अप्लाई करने पर राज्य सरकार ने उन्हें नोएडा के डीएम पद से हटा दिया है। उनके स्थान पर 2007 बैच के IAS सुहास एलवाई को नोयडा का नया DM बनाया गया है। बीएन सिंह को राजस्व विभाग में अटैच कर दिया गया है।

बीएन सिंह ने कहा कि मैं तीन साल से जिले में तैनात हूं। 18-18 घंटे काम कर रहा हूं। अब मैं जिलाधिकारी के पद पर नहीं रहना चाहता। उन्होंने पत्र में कहा, मैं निजी कारणों से जिलाधिकारी गौतमबुद्धनगर के पद पर नहीं रहना चाहता हूं। जिलाधिकारी के पदीय दायित्वों से मुक्त करते हुए 3 माह का अवकाश स्वीकृत करने का कष्ट करें। वर्तमान में कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए किसी भी प्रकार की प्रशासनिक शिथिलता न हो इसके लिए जरूरी है कि गौतमबुद्ध नगर में किसी अन्य अधिकारी की तैनाती की जाए।

कोरोना की तैयारियों को लेकर सोमवार नोएडा दौरे पर आए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भरी बैठक में गौतमबुद्धनगर के डीएम को बुरी तरह फटकार दिया। मुख्यमंत्री ने कड़े शब्दों में उन्हें चेतावनी देते हुए कहा, ‘‘आप लोगों की लापरवाही से यहां पर कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से बढा है।’’ उन्होंने कहा कि 2 माह पहले जब चेतावनी दे दी गई थी, तो कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए कड़ी कार्रवाई क्यों नहीं की। मुख्यमंत्री ने सीजफायर कंपनी के खिलाफ सख्त कार्रवाई नहीं करने पर भी अफसरों को फटकार लगाई।

यहां तक कि बैठक में जब अधिकारियों ने जवाब देना चाहो तो योगी ने कहा, ‘‘बकवास बंद करो, आप लोग कोई काम नहीं करते हो। काम करने के बजाय एक-दूसरे पर आरोप लगाते हो।’’ उन्होंने कहा, ‘‘लापरवाही बिल्कुल बर्दाश्त नहीं है। यहां के अधिकारी काम कम करते हैं, शोर ज्यादा मचाते हैं।’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here