इंग्लैंड: स्टेडियम की ऊपर से गुजरा ‘कश्मीर के लिए इंसाफ’ मांगता प्लेन, BCCI ने ICC से की शिकायत

0

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने हैडिंग्ले स्टेडियम के ऊपर विमान से भारत विरोधी बैनर लहराने के मुद्दे को अस्वीकार्य बताया है। बीसीसीआई ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के समक्ष अपने खिलाड़ियों की सुरक्षा का मुद्दा भी उठाया है। बता दें कि आईसीसी विश्व कप-2019 में हेडिंग्ले स्टेडियम में भारत और श्रीलंका के बीच खेले गए मैच के दौरान स्टेडियम के ऊपर से एक के बाद एक, तीन हवाई जहाज निकले जिन पर राजनैतिक संदेश लिखे हुए थे।

फोटो: सोशल मीडिया

बीसीसीआई ने अब इस मामले को गंभीरता से लेते हुए आईसीसी को एक पत्र लिखा है, जिसमें उन्होंने भारतीय खिलाड़ियों और फैंस की सुरक्षा को लेकर आश्वासन की मांग की है। बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया, ‘यह पूरी तरह से अस्वीकार्य है। हमने आईसीसी को लिखा है, हैडिंग्ले में जो भी हुआ उसे लेकर अपनी चिंता जाहिर की है। अगर सेमीफाइनल में इस तरह की घटना दोहराई गई तो यह बेहद दुर्भाग्यशाली होगा। हमारे खिलाड़ियों की सुरक्षा सर्वोच्च है।’

दरअसल, शनिवार को आईसीसी विश्व कप-2019 में हेडिंग्ले स्टेडियम में भारत और श्रीलंका के बीच मैच खेला जा रहा था। इस मैच के दौरान स्टेडियम के ऊपर से एक हवाईजहाज निकला, जिसके सहारे एक बैनर लटका हुआ था और उस बैनर पर लिखा था- ‘कश्मीर के लिए न्याय’। इसी के बाद एक और हवाईजाहज निकला जिसपर एक और बैनर लगा हुआ था और उस पर लिखा था- ‘भारत नरसंहार बंद करो और कश्मीर को आजाद करो’।

इसी तरह 29 जून को इसी स्टेडियम में पाकिस्तान और अफगानिस्तान के बीच मैच खेला गया था। इसी मैच में भी स्टेडियम के ऊपर से एक हवाईजहाज निकाला था, जिस पर बलूचिस्तान के लिए न्याय के नारे का बैनर लटका हुआ था।इसके बाद अब शनिवार को भारत और श्रीलंका के बीच में कश्मीर के लिए न्याय का बैनर लटका हुआ था।

बीसीसीआई ने मांगी सुरक्षा

बीसीसीआई के सीईओ राहुल जोहरी ने शनिवार को आईसीसी को लिखे पत्र में कहा, “बीसीसीआई की ओर से, मैं यह ध्यान दिलाना चाहता हूं कि आज हुई घटना को हम बेहद गंभीरता से लेते हैं। हम आईसीसी और ईसीबी से अनुरोध करते हैं कि हमें आश्वासन दिया जाए कि आगे के खेलों में ऐसी कोई घटना नहीं होगी। इसके अलावा हम यह भी आश्वासन चाहते हैं कि भारतीय क्रिकेट टीम और भारतीय प्रशंसकों को पूरी सुरक्षा मुहैया कराई जाएगी।”

आईसीसी ने मांगी माफी

आईसीसी के टूर्नामेंट प्रमुख क्रिस टेटली, इस घटना के लिए पहले ही बीसीसीआई से माफी मांग चुके हैं। इस मामले में आईसीसी ने एक बयान जारी कर कहा है, “यह एक बार दोबारा हुआ इस पर हमें खेद है। हम आईसीसी विश्व कप में किसी तरह के राजनीतिक संदेश की अनदेखी नहीं कर सकते। पूरे टूर्नामेंट के दौरान हमने स्थानीय पुलिस के साथ मिलकर काम किया है ताकि इस तरह के विरोध को रोका जाए। पहले हुए वाकये के बाद वेस्ट यार्कशायर पुलिस ने हमें आश्वस्त किया था कि इस तरह की चीजें दोबारा नहीं होंगी। इसलिए ऐसा दोबारा हुआ इससे हम निराश हैं।

29 जून के मामले पर आईसीसी ने कहा था, “हम आईसीसी विश्व कप में किसी तरह के राजनीतिक संदेश की अनदेखी नहीं कर सकते और हम वेस्ट यार्कशायर पुलिस के साथ मिलकर इस मामले को देख रहे हैं और समझने की कोशिश कर रहे हैं कि इस तरह की चीजें क्यों हो रही हैं। हम कोशिश करेंगे की दोबारा ऐसा न हो।”

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here