हाथरस की पीड़िता के लिए ‘अपमानजनक टिप्पणी’ करने वाले BJP नेता रंजीत श्रीवास्तव को महिला आयोग का नोटिस

0
4

राष्ट्रीय महिला आयोग ने हाथरस में कथित सामूहिक बलात्कार एवं हत्या के मामले की पीड़िता के बारे में कथित तौर पर अपमानजनक टिप्पणी करने वाले भाजपा नेता रंजीत श्रीवास्तव को तलब किया है। आयोग के मुताबिक, उसने श्रीवास्तव को नोटिस भेज कर कहा है कि वह 26 अक्टूबर को सुबह 11 बजे महिला आयोग के समक्ष उपस्थित हों।

इससे पहले, महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने कहा कि श्रीवास्तव किसी पार्टी के नेता कहलाने के लायक नहीं हैं। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘वह किसी पार्टी का नेता कहलाने के लायक नहीं हैं। वह अपनी घटिया सोच दिखा रहे हैं और मैं उन्हें नोटिस भेज रही हूं।’’

बता दें कि, भाजपा नेता रंजीत श्रीवास्तव ने हाथरस की पीड़िता के चरित्र को लेकर अपमानजनक टिप्पणी की थी। भाजपा नेता के बयान का एक वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ था। वायरल वीडियो में भाजपा नेता कह रहे है, “लड़की ने लड़के को प्रेम प्रसंग के चलते बाजरे के खेत में बुलाया होगा। अब वह किसी परिजन के द्वारा पकड़ ली गई होगी क्योंकि खेत में तो यही होता है।’

भाजपा नेता ने आगे कहा, ‘आप देखिये जितनी लड़कियां इस तरीके से मरती हैं वो अरहर के, गन्ने के, मक्के के, बाजरे के या फिर नाले में या जंगल में पाई जाती हैं। ये धान के या गेहूं के खेत में तो मरी नहीं मिलती हैं और ना ही इन्हें कोई घसीट कर ले जाता है। आखिर ऐसी जगहों पर घटनाएं क्यों होती हैं यह जांच का विषय है और मैंने ग़लत नहीं कहा है।’

गौरतलब है कि, हाथरस जिले के एक गांव में गत 14 सितंबर को 19 वर्षीय एक दलित युवती से कथित रूप से सामूहिक बलात्कार किया गया था। चोटों के चलते गत मंगलवार सुबह दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में पीड़िता की मौत हो गई। इसके बाद रातोंरात उसके शव का दाह-संस्कार कर दिया गया। परिवार का आरोप है कि स्थानीय पुलिस प्रशासन ने उनकी सहमति के बगैर गत बुधवार तड़के पीड़िता के शव का जबरन दाह-संस्कार कर दिया। प्रशासन से इससे इनकार किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here