बिहार: दुष्कर्म में नाकाम होने पर जलाई गई युवती ने तोड़ा दम, बेटी की मौत से दुखी पिता ने कहा, ‘हमें इंसाफ चाहिए’

0

बिहार में मुजफ्फरपुर के अहियापुर थाना क्षेत्र में सात दिसंबर को दुष्कर्म की कोशिश में नाकाम होने पर जलाई गई छात्रा आखिर जिंदगी से जंग हार गई और सोमवार की देर रात उसने दम तोड़ दिया। बेटी की मौत से दुखी पिता ने कहा, ‘हमें इंसाफ चाहिए। पुलिस को इस मामले में उचित कार्रवाई करनी चाहिए।’

बिहार

राजधानी पटना के अपोलो अस्पताल में भर्ती पीड़िता 80 फीसदी झुलस गई थी। पीड़िता ने गुनाहगारों को फांसी की सजा की मांग करते हुए अंतिम सांसें लीं। अंतिम समय में पीड़िता के साथ मौजूद परिजनों के मुताबिक, “उसने अंतिम समय में भी कहा, ‘मुझे न्याय चाहिए। जिस शख्स ने मुझे इस हालत में लाकर खड़ा किया है, उसे सजा मिले, उसे (आरोपी) फांसी की सजा दी जाए।”

समाचार एजेंसी आईएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक, आलमगंज के थाना प्रभारी अभिजीत कुमार ने बताया कि सोमवार रात पटना के एक निजी अस्पताल में पीड़िता ने इलाज के दौरान लगभग 11.40 बजे दम तोड़ दिया। पुलिस मामले में जांच में जुटी है। पीड़िता के पिता ने कहा कि हम न्याय की मांग करते हैं। उन्होंने कहा कि पुलिस को मामले में ठीक तरीके से कार्रवाई करनी चाहिए।

गौरतलब है कि, अहियापुर थाना क्षेत्र में आरोपी राजा राय ने छात्रा के घर में घुसकर छात्रा से दुष्कर्म करने की कोशिश की थी। दुष्कर्म में असफल होने के बाद उसने छात्रा पर केरोसिन का तेल उड़ेल कर आग लगा दी थी। छात्रा के करीब 80 प्रतिशत जल जाने के बाद आरोपी ने ही उसे एक स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया था और फरार हो गया था।

पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। दूसरा आरोपी मुकेश भी अदालत मेंआत्मसमर्पण कर चुका है। इस बीच, 10 दिनों तक मौत से जूझने के बाद सोमवार रात पीड़िता की मौत की खबर मुजफ्फरपुर पहुंचते ही पीड़िता के गांव में मातम छा गया।

चिकित्सकों के मुताबिक, सोमवार की दोपहर से उसकी तबीयत खराब होनी शुरू हो गई थी, दिन में कई बार उल्टी होने पर डॉक्टर उसकी निगरानी में लगातार जुटे थे। देर शाम उसे सांस लेने में तकलीफ होने लगी थी। उसकी गंभीर स्थिति को देखते हुए चिकित्सकों ने ऑक्सीजन भी लगाया परंतु पीड़िता को बचाया नहीं सका।

बता दें कि, उन्नाव में बलात्कार पीड़िता कें जिंदा जलाए जाने और हैदराबाद में बलात्कार पीड़िता का जला शव मिलने के बाद बिहार में ऐसे मामले सामने आने से राज्य में महिला सुरक्षा और कानून-व्यवस्था पर सवाल खड़े हो गए हैं। इससे पहले यूपी के उन्नाव में एक युवती को जला कर मार दिया गया था। इस युवती के साथ पहले गैंगरेप हुआ था और वो पिछले एक साल से आरोपियों को सजा दिलाने की कोशिश कर रही थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here