प्लास्टिक बैग का इस्तेमाल करने पर महिला अधिकारी ने गरीब फल विक्रेता का काटा 1000 रुपये का चालान, यूजर्स बोले- कुछ इंसानियत बची हो तो आज आइना देख लेना

0

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें कथित एक महिला अधिकारी सड़क किनारे प्लास्टिक बैग में फल बेच रहे एक गरीब ठेले वाले पर रौब झाड़ते हुए उसका 1000 रुपये का चालान काटने का आदेश दे रही हैं। सोशल मीडिया पर महिला अधिकारी की जमकर आलोचना हो रही है। लोगों का कहना है कि एक तरफ जहां विजय माल्या और नीरव मोदी जैसे लोग हजारों करोड़ रुपये लेकर विदेश में जाकर मजे काट रहे हैं, वहीं अपने परिवार की रोजी-रोटी के लिए ठेला लगा रहे गरीब शख्स पर एक हजार रुपये का जुर्माना लगाना एक प्रकार से जुल्म है।

दरअसल, वायरल वीडियो के मुताबिक ठेले वाले शख्स का महिला अधिकारी ने इसलिए एक हजार रुपये का चालान काटी है, क्योंकि वह आम बेचने के लिए प्लास्टिक बैग का इस्तेमाल कर रहा था। हालांकि, अभी इस बात का खुलासा नहीं हो पाया है कि यह मामला कहां का है। कुछ यूजर्स इस वीडियो को फर्जी भी करार दे रहे हैं। महिला अधिकारी वीडियो में कहती हैं, “इनका (ठेले वाले) एक हजार रुपये का चालान काटिए, क्योंकि ये प्लास्टिक बैग में आम बेच रहे हैं।”

एक तरफ जहां विजय माल्या और नीरव मोदी जैसे लोग हजारों करोड़ रुपये लेकर विदेश में मजे काट रहे हैं

एक तरफ जहां विजय माल्या और नीरव मोदी जैसे लोग हजारों करोड़ रुपये लेकर विदेश में मजे काट रहे हैं, वहीं एक गरीब ठेले वाले पर महिला अधिकारी ने 1000 रुपये का जुर्माना लगा दिया, क्योंकि वह प्लास्टिक बैग का इस्तेमाल कर था। लोगों का कहना है कि आखिर सरकार प्लास्टिक बैग बनाने वाली कंपनियों पर क्यों नहीं बैन लगा रही है।

Posted by जनता का रिपोर्टर on Monday, 28 May 2018

सोशल मीडिया पर लोगों ने की आलोचना

सोशल मीडिया पर महिला अधिकारी के प्रति लोगों में काफी नाराजगी देखने को मिल रहा है। लोगों का कहना है कि अधिकारियों का रौब बस गरीबों पर ही चलता है। कुछ यूजर्स महिला अधिकारी से सवाल पूछ रहे हैं कि आखिर प्लास्टिक बनाने वाली कंपनियों पर बैन क्यों नहीं लगाया जा रहा है? वहीं एक वरिष्ठ पत्रकार ने इस वीडियो को शेयर करते हुए सवाल पूछा है कि आखिर ये महिला अधिकारी मॉल में क्यों नहीं गईं?

टीवी एंकर पत्रकार साक्षी जोशी ने इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है, “ये मोहतरमा मॉल में नहीं जाएंगी, एक ऐसे शख़्स का चालान काटेंगी जो बेचारे देखने से ही ऐसे लग रहे हैं शायद ही एक दिन में 1000 रुपये कमा पाते हों। मैडम मुझसे आप 2000 रुपये ले लीजिए कृपया इनके पैसे वापस कीजिए। कुछ इंसानियत बची हो तो आज आइना देख लेना।” इसके साथ ही ‘जनता का रिपोर्टर’ के प्रधान संपादक रिफत जावेद ने भी इस वीडियो को शेयर कर तीखी आलोचना किए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here