उत्तर प्रदेश: महिला प्रवासी ने 500 किलोमीटर पैदल चलने के बाद पेड़ के नीचे दिया बच्चे को जन्म

0

कोरोना लॉकडाउन के बीच एक महिला प्रवासी ने मध्य प्रदेश से 500 किलोमीटर की पैदल यात्रा की और उत्तर प्रदेश के ललितपुर जिले में सड़क के किनारे एक पेड़ के नीचे एक बच्ची को जन्म दिया। महिला, एक दर्जन अन्य लोगों के साथ मध्य प्रदेश के धार से कई दिनों से पैदल चल रही थी और 520 किलोमीटर की दूरी तय करने के बाद उसे सोमवार को बालाभेट गांव में प्रसव पीड़ा होने लगी। जब वह यात्रा पर निकली थी तब वह साढ़े आठ महीने की गर्भवती थी।

उत्तर प्रदेश
फोटो: सोशल मीडिया

समाचार एजेंसी आईएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक, उसके पति टंटू ने कहा कि उसकी पत्नी राजबेटी यात्रा के दौरान लिए गए छोटे से ब्रेक में खाना बना रही थी, तभी उसे प्रसव पीड़ा होने लगी और बाद में उसने पेड़ के नीचे एक बच्ची को जन्म दिया। उसके पति और समूह की कुछ अन्य महिलाओं ने उसकी सहायता की। उन्होंने कहा कि प्रवासियों का ये समूह धार जिले के प्रीतमपुर क्षेत्र से ललितपुर में अपने गांव की ओर पैदल चल रहा था। जिस कारखाने में वे काम कर रहे थे, वह कोरोनोवायरस के प्रकोप के कारण लगे राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के चलते बंद हो गया था।

जब बल्लभ गांव के मुखिया को महिला के बारे में पता चला, तो उन्होंने पास के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (पीएचसी) से एक मेडिकल टीम को बुलाया। टीम ने मां और नवजात को तत्काल चिकित्सा सहायता प्रदान की और फिर उन्हें अस्पताल ले गई जहां से उन्हें बाद में छुट्टी दे दी गई।

ललितपुर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी, प्रताप सिंह ने कहा, “हमारी मेडिकल टीम के पहुंचने से पहले महिला ने एक स्वस्थ बच्ची को जन्म दे दिया था। बाद में, मां और नवजात शिशु दोनों को मौके पर ही चिकित्सा सहायता दी गई और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में स्थानांतरित कर दिया गया। दोनों सुरक्षित हैं और उन्हें एम्बुलेंस में उनके गंतव्य के लिए भेज दिया गया है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here