दुबई में फतवा जारी, पड़ोसी के यहां से वाईफाई चुराना ग़ैर इस्लामी

0

अगर आपके पड़ोस से आपके कम्प्यूटर या मोबाइल या अन्य डिवाइस पर इंटरनेट वाईफाई कनेक्शन कनेक्ट हो जाता है और आप उसका इस्तेमाल भी शुरू कर देते है तो अब यूएई सिटी में इस्लामिक अफेयर्स एंड चैरिटेबल एक्टिविटीज डिपार्टमेंट की ओर से फतवा जारी किया गया है कि ऐसा करना गलत है।

Also Read:  ब्रिटिश पत्रकार की ट्विटर पर वीरेंद्र सहवाग को चुनौती, भारत के आलंपिक गोल्ड जीतने से पहले इंग्लैड जीतेगा वर्ल्ड कप

यह फतवा इस्लामिक अफेयर्स एंड चैरिटेबल एक्टिविटीज डिपार्टमेंट की वेबसाइट पर जारी किया गया है। ये दुबई की सर्वोच्च सरकारी धार्मिक संस्था है जिसने वाईफाई चोरी के खिलाफ फतवा जारी किया है।

दुबई का यह विभाग तमाम तरह के सवालों के जवाब देता है। इसकी सर्वाधिक मान्यता है। इनमें नमाज, धार्मिक सवालों से लेकर काॅस्मेटिक्स सर्जरी और गैरकानूनी तरीके से मूवी डाउनलोड करने जैसे विषय भी शामिल होते हैं।

Also Read:  दिल्ली में सबसे ज्यादा फर्जी विश्वविद्यालय और देशभर में 279 संस्‍थान

इस फतवे में कहा गया है कि पड़ोसी के यहां से कनेक्टिविटी चुराना इस्‍लाम के लिहाज से एक गलत आचरण है। एक अज्ञात व्यक्ति के पुछे जाने वाले सवाल के जवाब में ये फतवा दिया गया है। फतवे के मुताबिक, ‘अगर आपके पड़ोसी ने आपको इजाजत दे रखी है तो उनके वाईफाई कनेक्शन को इस्‍तेमाल करने में कोई बुराई नहीं है लेकिन अगर आप बिना इजाजत इसे प्रयोग कर रहे है तो ये नहीं करना चाहिए।’

Also Read:  पेट्रोल 1.29 रू. और डीजल में 0.97 रूपये/लीटर की बढ़ोतरी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here