कांग्रेस नेता का दावा- ‘INS सुमित्रा पर पीएम नरेंद्र मोदी के साथ गए थे कनाडाई नागरिक अक्षय कुमार’, तस्वीरें जारी कर बोला हमला

0

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी द्वारा INS विराट का ‘टैक्सी’ की तरह इस्तेमाल करने के पीएम नरेंद्र मोदी के बयान पर सियासी घमासान छिड़ गया है। इस बीच कांग्रेस की सोशल मीडिया रणनीतिकार दिव्या स्पंदना ने भारतीय नौसेना के युद्धपोत सुमित्रा पर अभिनेता एवं कनाडाई नागरिक अक्षय कुमार को कथित तौर पर अपने साथ ले जाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना की है। उनका यह पलटवार मोदी के एक दिन पूर्व दिए बयान के बाद हुआ है जिसमें उन्होंने (मोदी) ने कहा था कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी जंगी पोत आईएनएस विराट को पारिवारिक छुट्टियों के लिए ‘व्यक्तिगत टैक्सी’ के रूप में प्रयोग किया था।

दिव्या ने ट्वीट को प्रधानमंत्री मोदी को टैग करते हुए पूछा है, ‘‘ये ठीक था? आप कनाडाई नागरिक अक्षय कुमार को अपने साथ आईएनएस सुमित्रा पर ले गए।’’ स्पंदना ने हैशटैग के साथ कहा, ‘‘सबसे बड़ा झूठा मोदी’’

गौरतलब है कि अक्षय कुमार ने अपनी नागरिकता संबंधी अटकलों पर विराम लगाते हुए गत माह कहा था कि उनके पास कनाडाई पासपोर्ट है। स्पंदना ने एक लेख को भी टैग किया जिसमें सवाल किया गया है कि साल 2016 में विशाखापट्टनम में अंतरराष्ट्रीय बेड़ा समीक्षा के समय बॉलीवुड को क्यों शामिल किया गया। इसमें कहा गया है कि, ‘‘यहां तक कि कुमार ने प्रेसीडेंशियल यॉच आईएनएस सुमित्रा को अन्य नौसैनिक अधिकारियों और अन्य अतिविशिष्ट अतिथिगणों के साथ चलाया भी था।’’

स्पंदना ने बॉलीवुड की बड़ी शख्सियत अमिताभ बच्चन से भी कहा है कि वह आईएनएस विराट मुद्दे पर अपना पक्ष स्पष्ट करें। इसमें एक रिपोर्ट का हवाला दिया गया है जिसमें लक्षद्वीप के तत्कालीन प्रशासक वजाहत हबीबुल्लाह ने प्रधानमंत्री के दावे को नकार दिया है और कहा है कि किसी संदेह की स्थिति में बच्चन से पूछा जाना चाहिए। प्रधानमंत्री मोदी ने बुधवार को यहां आयोजित एक रैली में सनसनीखेज आरोप लगाते हुए कहा कि जब राजीव गांधी प्रधानमंत्री थे तो गांधी परिवार युद्धपोत आईएनएस विराट का उपयोग ‘‘निजी टैक्सी’’ के रूप में करता था. इससे पहले भी मोदी ने राजीव गांधी को ‘भ्रष्टाचारी नंबर 1’ करार दिया था।

पीएम मोदी ने कहा था, ‘‘क्या इस बात की कल्पना की जा सकती है कि भारतीय सशस्त्र सेनाओं के विशिष्ट युद्धपोत को व्यक्तिगत छुट्टियों के लिए एक टैक्सी के रूप में प्रयुक्त किया जाए? एक वंश ने ऐसा किया।’’ प्रधानमंत्री ने दावा किया कि राजीव गांधी के नेतृत्व वाली तत्कालीन सरकार और नौसेना ने उनके परिवार एवं ससुराल पक्ष की मेजबानी की और उनकी सेवा में एक हेलीकाप्टर को भी लगाया गया। उन्होंने कहा कि जब एक परिवार सुप्रीम हो जाता है तो देश की सुरक्षा को खतरा हो जाता है।

पीएम मोदी ने कहा, ‘‘आईएनएस विराट का इस्तेमाल एक निजी टैक्सी की तरह करके इसका अपमान किया गया। यह तब हुआ जब राजीव गांधी एवं उनका परिवार 10 दिनों की छुट्टी पर गए थे। आईएनएस विराट को हमारी समुद्री सीमा की रक्षा के लिए तैनात किया गया था, किन्तु इसका रास्ता बदल कर गांधी परिवार को लेने के लिए भेजा गया जो अवकाश मना रहे थे।’’ राजीव गांधी 1984-89 तक देश के प्रधानमंत्री रहे थे। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने उनके पिता की आलोचना करने पर मोदी को निशाने पर ले लिया है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here