गुजरात विधानसभा चुनाव: पोरबंदर में EVM के ब्लूटूथ से कनेक्ट होने की शिकायत, जानिए क्यों महत्वूर्ण होंगे यहां के परिणाम?

0

गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण की 89 सीटों के लिए मतदान जारी है। वोटिंग सुबह 8 बजे से शुरू हुआ है, जो और शाम पांच बजे तक चलेगा। सौराष्ट्र और दक्षिण गुजरात के 19 जिलों में 89 सीटों पर पहले चरण में मतदान हो रहा है। इसके लिए कुल 977 उम्मीदवार मैदान में हैं। दोपहर 2 बजे तक 35.52 फीसदी मतदान हुआ है। मतदाताओं में जबर्दस्त उत्साह देखा जा रहा है।

Photo: Ashutosh Mishra

इस बीच मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक गुजरात चुनाव के पहले चरण में 100 से अधिक इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) मशीनों में गड़बड़ी की शिकायतें आई हैं। कांग्रेस ने कई जगहों पर ईवीएम मशीन में गड़बड़ी की शिकायत की है। कांग्रेस ने पोरबंदर में कुछ जगहों पर ईवीएम के वाई-फाई से कनेक्ट होने की भी शिकायत की है। हालांकि चुनाव आयोग ने कांग्रेस के आरोपों को खारिज कर दिया है।

दरअसल, पोरबंदर बहुत ही महत्वपूर्ण सीट है यहीं से गुजरात कांग्रेस के बड़े नेता अर्जुन मोढवाडिया चुनाव लड़ रहे हैं। 2012 में यहां बीजेपी के वरिष्ठ नेता बाबु बोखरिया ने कांग्रेस उम्मीदवार अर्जुन मोढवाडिया को 17 हजार वोटों से हरा दिया था। मोढवाडिया यहां पहले दो बार विधायक रह चुके हैं और कांग्रेस के एक बड़े नेता माने जाते हैं। छवि भी उनकी साफ सुथरी है।

यहां की जनता पानी की समस्या, विकास और बेरोजगारी को लेकर बीजेपी से बेहद नाराज है। भिकू भाई नाम के एक स्थानीय मतदाता ने ‘जनता का रिपोर्टर’ को बताया कि उन्हें कई सालों से कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य सरकार उनकी शिकायतों को अनदेखा कर देती है। भिकू ने कहा कि पोरबंदर में मूलभूत सुविधाओं का बेहद अभाव है, लेकिन राज्य सरकार हमारी शिकायतों को सुनने से इनकार कर देती है।

वहीं एक 55 वर्षीय ट्रक चालक ने कहा कि, “मैं हर महीने 5,000 रुपये कमाता हूं। हमारे पास अभी पानी तक नहीं पहुंच पाया है और उज्जवल नगर क्षेत्र में कई महीनों से सभी कारखाने बंद पड़े हैं, जिस वजह से यहां बेरोजगारी की बहुत बड़ी समस्या उत्पन्न हो गई है। इसके अलावा वोट देने पहुंचे तमाम मतादाता पानी और रोजगार को लेकर अपनी नाराजगी व्यक्त कर रहे हैं।बता दें कि गुजरात चुनाव में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी विकास के मुद्दे पर बीजेपी और पीएम मोदी पर लगातार हमला बोल रहे हैं। वहीं पीएम मोदी कांग्रेस के निलंबित नेता मणिशंकर अय्यर के नीच वाले को लेकर सहानुभूति लेने में लगे हुए हैं। इसके अलावा मोदी ने शनिवार को कांग्रेस के एक कथित तौर पर युवा नेता सलमान निज़ामी के एक ट्वीट को लेकर सहानुभूति जुटाने में लग गए और विकास के मुद्दों को भटकाने की नाकाम कोशिश कर रहे हैं।

राहुल गांधी ने शनिवार को पीएम मोदी से सवाल किया कि गुजरात चुनाव प्रचार के दौरान उनके भाषणों में विकास का उल्लेख क्यों नहीं किया जा रहा है। राहुल ने कहा कि उन्होंने गुजरात के रिपोर्ट कार्ड के बारे में पीएम मोदी से जो 10 सवाल पूछे थे उनमें से एक का भी जवाब नहीं आया है, जबकि बीजेपी 22 साल से सत्ता में है।

Rifat Jawaid Live on Gujarat polls and reports of EVM malfunctioning

Posted by Janta Ka Reporter on Saturday, 9 December 2017

ब्लूटूथ से EVM कनेक्ट

इस बीच खबरें आईं कि पोरबंदर जिले के ठक्कर प्लॉट बूथ पर ईवीएम ब्लूटूथ से कनेक्ट हो रही हैं। गुजरात कांग्रेस नेता अर्जुन मोढवाडिया ने चुनाव आयोग से शिकायत की कि ईवीएम को ब्लूटूथ से कनेक्ट किया जा रहा है। सबूत के तौर पर मोढवाडिया ने आयोग को एक स्क्रीनशॉट भी भेजा। इसके बाद चुनाव आयोग की टीम मौके पर पहुंची। हालांकि, जांच के बाद आयोग ने इस दावे को गलत बताया और कहा कि यह आसपास की किसी और डिवाइस के कनेक्ट होने का मामला था।

आयोग की टीम के ईवीएम इंजीनियर एस आनंद ने मीडिया से कहा कि, “मोबाइल पर ब्लूटूथ ऑन करने पर आसपस की डिवाइस का नाम शो होता है। मोबाइल पर ईको 105 शो हो रहा था, जो इंटेक्स कंपनी का मोबाइल का कोड था। आप इस नाम को बदल भी सकते हैं। आप अपना नाम रख देंगे तो वही शो होगा।” बता दें कि ईवीएम पर सवाल उठने के बाद ही इस साल सुप्रीम कोर्ट ने आगे होने वाले सभी चुनावों में वीवीपीएटी का इस्तेमाल करने का आदेश दिया था।

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here