डिवाइडर इन चीफ: अभिनेता कबीर बेदी ने लेखक आतिश तासीर को पाकिस्तानी बताने पर मां तवलीन सिंह से मांगी माफी, क्या संबित पात्रा भी गलती स्वीकार करेंगे?

0

देश में लोकसभा चुनाव के अंतिम पड़ाव पर पहुंचने के बीच पिछले दिनों अमेरिका की प्रतिष्ठित ‘टाइम’ पत्रिका ने अपने अंतरराष्ट्रीय संस्करण के कवर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर के साथ एक विवादास्पद शीर्षक छापा था, जिसे लेकर एक नया विवाद शुरू हो गया है। इस चुनावी मौसम में पत्रिका ने विपक्ष को पीएम मोदी पर हमला करने के लिए एक हथियार दे दिया है। हालांकि इसके नीचे ही एक अन्य शीर्षक में पीएम मोदी की प्रशंसा की गई है।

अमेरिकी पत्रिका ने 20 मई 2019 के यूरोप, पश्चिम एशिया एवं अफ्रीका, एशिया और दक्षिण प्रशांत के अपने अंतरराष्ट्रीय संस्करण के कवर पर मोदी की तस्वीर के साथ शीर्षक दिया है ‘‘इंडियाज डिवाइडर इन चीफ’’। इस लेख को आतिश तासीर ने लिखा है जो प्रसिद्ध भारतीय पत्रकार तवलीन सिंह और दिवंगत पाकिस्तानी नेता एवं कारोबारी सलमान तासीर के बेटे हैं। सलमान तासीर पाकिस्तानी पंजाब प्रांत के गवर्नर भी थे। 2011 में उनकी गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

पीएम मोदी पर यह लेख लिखने वाले पत्रकार आतिश तासीर के बारे में एक नया चर्चा शुरू हो गई है। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने फौरन एक प्रेस कॉन्फेंस कर कवर स्टोरी के लेखक तासीर को पाकिस्तानी नागरिक बता दिया। पात्रा ने कहा, “जब भारत का टाइम बदलता है, तो कुछ लोगों को परेशानी होती है। वो कुछ आर्टिकल आदि छापना शुरू कर देते हैं। 2014 में भी कुछ ऐसी ही विदेशी पत्र पत्रिकाएं थीं जो मोदी जी के खिलाफ खूब छापते थे। ऐसा ही एक आर्टिकल हमने आज टाइम मैगजीन में देखा है।”

बीजेपी प्रवक्ता ने आगे कहा, “भाइयों, क्या आप जानते हैं कि इसका लेखक (आतिश तासीर) कौन है? इस लेख का लेखक है एक पाकिस्तानी नागरिक। एक पाकिस्तानी नागरिक मोदी जी को डिवाइडर कहता है और राहुल गांधी उसको ट्वीट करते हैं। पाकिस्तान का केवल एक ही एजेंडा है कि मोदी जी की छवि को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मलिन किया जाए। इसलिए इस लेख को लिखकर, यह पाकिस्तानी लेखक मोदी जी को बदनाम करने का छद्म प्रयास कर रहे हैं।”

संबित पात्रा के अलावा अब बॉलीवुड अभिनेता कबीर बेदी ने भी कहा है कि विश्व का सबसे मशहूर मैग्जीन कैसे प्रधानमंत्री मोदी पर एक पाकिस्तानी के लेख का समर्थन कर सकता है। कैसे विश्व की मशहूर पत्रिका एक पाकिस्तानी की तरफ से पीएम नरेंद्र मोदी पर इस तरह के पक्षपात पूर्ण हमले का समर्थन कर सकती है। वो भी उस समय जब देश में आम चुनाव हो रहे हैं?’

कबीर बेदी के आतिश को पाकिस्तानी कहने पर आतिश की मां और देश की वरिष्ठ पत्रकार तवलीन सिंह ने आपत्ति जताई है। तवलीन सिंह ने अभिनेता पर पलटवार करते हुए लिखा, ‘कबीर उसने (आतिश) जो भी लिखा आप उससे असहमत हो सकते हैं, लेकिन आप जानते हैं कि वह पाकिस्तानी नहीं है।’

अपनी गलती का अहसान होने के बाद कबीर बेदी ने एक बार फिर ट्वीट कर तासीर को पाकिस्तानी बताए जाने पर माफी मांगी है। कबीर ने कहा कि तवलीन आपसे क्षमा चाहता हूं। मैंने माना कि वह पाकिस्तानी था, क्योंकि उसने अपने पिता को “पाकिस्तानी मुस्लिम” कहा था। लेकिन मुझे खुशी है कि मोदी के बारे में उन्होंने जो लिखा है, उससे आप असहमत हैं।

वहीं, विवाद बढ़ता देख तिरंगा टीवी चैनल पर वरिष्ठ पत्रकार बरखा दत्त से बात करते हुए तसीर ने कहा कि भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा उनकी राष्ट्रीयता के बारे में झूठ बोल रहे हैं। तासीर ने कहा कि भाजपा के प्रवक्ता झूठ बोल रहे हैं कि मैं एक पाकिस्तानी हूं जब कि वह अच्छी तरह से जानते हैं कि मैं भारत में बड़ा हुआ हूं। मुझे ऐसे आरोपों पर बहुत गुस्सा आता है।

दरअसल, आतिश तासीर की पैदाइश ब्रिटेन में 1980 में हुई थी। आतिश का बचपन देश की राजधानी दिल्ली में ही बीता। उनके पिता 2007 में पाकिस्तान की सरकार में मंत्री रहने के साथ ही पाकिस्तानी पंजाब प्रांत के गवर्नर रहे थे। साल 2011 में सलमान तासीर को उनके अंगरक्षकों ने ही गोली मार कर हत्या कर दी थी। आतिश तासीर टाइम पत्रिका के लिए स्वतंत्र पत्रकार के तौर पर कार्य करते हैं।

‘‘इंडियाज डिवाइडर इन चीफ’’ के नीचे ही एक अन्य शीर्षक में पीएम मोदी की प्रशंसा की गई है। इस शीर्षक के नीचे एक अन्य शीर्षक दिया गया है: ‘‘मोदी द रिफॉर्मर’’ (सुधारक मोदी)। पत्रिका में यह भी कहा गया है कि विपक्षी कांग्रेस के पास वंशवाद के सिद्धांत के अलावा और कुछ देने को नहीं है। ‘‘मोदी द रिफॉर्मर’’ (सुधारक मोदी) लेख ‘यूरेशिया ग्रुप’ के अध्यक्ष एवं संस्थापक इयान ब्रेमर ने लिखा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here