जब ‘सर्कस’ में तब्दील हुआ अर्नब गोस्वामी का शो, बंगाली, हिंदी, भोजपुरी और तेलुगु में बहस करने लगे पैनलिस्ट

0

अंग्रेजी समाचार चैनल ‘रिपब्लिक टीवी’ पर हर रात प्रसारित होने वाला अर्नब गोस्वामी का प्राइम टाइम डिबेट धीरे-धीरे अब नाटकों के लिए कुख्यात होता जा रहा है। पिछले हफ्ते अर्नब गोस्वामी के चैनल रिपब्लिक टीवी का एक शो उस वक्त चर्चा का विषय बन गया, जब डिबेट में मौजूद पैनलिस्टों ने अंग्रेजी छोड़ एक-दूसरे के खिलाफ अपनी-अपनी क्षेत्रीय भाषाओं में हमले करने शुरू कर दिए।

यह नाजारा तब शुरू हुआ जब भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के प्रवक्ता गौरव भाटिया द्वारा अंग्रेजी चैनल पर तृणमूल कांग्रेस के नेता गर्ग चटर्जी पर हिंदी में हमला करना शुरू किया गया। चटर्जी, जिन्होंने अतीत में हिंदी के प्रति घृणा के बारे में बात की थी, ने भाटिया के हमले का जवाब देते हुए बंगाली में बीजेपी प्रवक्ता पर पलटवार किया।

टीएमसी प्रवक्ता ने गौरव भाटिया से पूछा कि आप मुझसे हिंदी में बोलने की हिम्मत कैसे करते हैं? अगर आप मुझसे हिंदी में बात करते हैं, तो मैं आपसे बंगाली में बात करूंगा। अपने हमले को जारी रखते हुए, चटर्जी ने भाटिया का मजाक उड़ाते हुए कहा कि आपने सपा से बीजेपी में अपनी वफादारी का परिचय दे दिया है। तृणमूल प्रवक्ता ने कहा कि भाटिया ने जिस तरह से पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के नाम का उच्चारण करने का प्रयास किया था, वह नकली बंगाली लहजे का इस्तेमाल करके किया गया था।

चटर्जी और भाटिया ने अपनी-अपनी भाषाओं (बंगाली और हिंदी) में काफी देर तक एक-दूसरे पर हमले जारी रखे। इस बीच देखते ही देखते यशवंत देशमुख भोजपुरी में टिप्पणी करते हुए बहस में शामिल हो गए। बता दें कि पूर्वी उत्तर प्रदेश और बिहार में भोजपुरी व्यापक रूप से बोली जाने वाली एक प्रसिद्ध भाषा है। यशवंत द्वारा भोजपुरी में अपनी बात रखने के बाद अर्नब का डिबेट ऐसा लग रहा था कि जैसे कहीं सर्कस का शो हो रहा हो।

अर्नब का यह डिबेट तब और नाटक में तब्दील हो गया जब कथित बीजेपी समर्थक पत्रकार कंचन गुप्ता ने बंगाली में अपनी बात रखने लगे। गुप्ता को असंगत रूप से संबोधित करते हुए चटर्जी ने उन्हें तीसरे श्रेणी के लुटियन पत्रकार करार दे दिया। इसके जवाब में, गुप्ता ने चटर्जी इसे असभ्य करार देते हुए कहा कि वह तृणमूल प्रवक्ता द्वारा अपमानजनक तरीके से संबोधित किए जाने पर आपत्ति जताते हैं। इतना ही नहीं देखते ही देखते टीडीपी के एक प्रवक्ता तेलुगु में बात करके इस बहस में शामिल हो गए, जिसके बाद यह शो और रोचक हो गया।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here