केंद्र सरकार के आदेश के बाद भी गाड़ी पर लाल बत्ती लगा कर धूम रहे हैं पश्चिम बंगाल के मंत्री

0

केंद्र सरकार के आदेश के बाद सोमवार (1 मई) से पूरे देश में वीआईपी की गाड़ियों पर से लाल, पीली और नीली बत्तीयों का इस्तेमाल बंद हो गया है। लेकिन उसके बाद भी पश्चिम बंगाल के नेता अपनी गाड़ीयों से लाल बत्ती नही उतार रहें है।

पश्चिम बंगाल

पश्चिम बंगाल के लोक निर्माण विकास मंत्री (PWD) अरूप बिसवास सोमवार को अपनी गाड़ी पर लाल बत्ती लगाकर सफर करते नजर आए। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, जब उनसे बत्ती को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में लाल बत्ती पर बैन नहीं लगा है।

उन्होंने कहा, “हमारी सरकार ने अभी तक बैन नहीं लगाया है। इसलिए हम दूसरों का आदेश मानने के लिए बाध्य नहीं हैं।” इतना ही नहीं, सिलीगुड़ी जलपाईगुड़ी विकास प्राधिकरण (SJDA) के चेयरमैन भी लाल बत्ती का इस्तेमाल करते दिखे।

गौरतलब है कि, 19 अप्रैल को केन्द्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने व्हीकल एक्ट में संशोधन किया था जिसके मुताबिक देश में वीआईपी कल्चर का प्रतीक बनी लाल-पीली और नीली बत्तियों के इस्तेमाल पर 1 मई 2017 से रोक लगाने को मंजूरी दी गई थी।

इस नियम के मुताबिक अब हर तरह की वीआईपी गाड़ियों पर लाल, पीली और नीली बत्ती का इस्तेमाल बंद हो गया है। नए नियम के मुताबिक 1 मई से केंद्र या राज्य कहीं भी लाल बत्ती का इस्तेमाल नहीं हो सकेगा। सिर्फ इमरजेंसी सर्विस (एम्बुलेंस, फायर ब्रिगेड और पुलिस) में नीली बत्ती लगाने की छूट दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here