मध्य प्रदेश: व्यापम का खुलासा करने वाले कार्यकर्ता आनंद राय बोले- राहुल गांधी के ‘आश्वासन’ के बावजूद कांग्रेस ने नहीं दिया टिकट

0

कांग्रेस के टिकट पर मध्य प्रदेश के इंदौर से चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे व्यापम का खुलासा करने वाले आरटीआई ऐक्टिविस्ट डॉ. आनंद राय को कांग्रेस ने टिकट नहीं दिया। टिकट न दिए जाने पर आनंद राय ने अपनी नाराजगी जाहिर की है।

आनंद राय

समाचार एंजेंसी ANI के मुताबिक आनंद राय ने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा, ‘मुझे कांग्रेस से टिकट नहीं मिला है, जबकि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मुझे टिकट का भरोसा दिया था। मेरी वजह से कांग्रेस ने संजीव सक्सेना (व्यापम मामले के आरोपी) को टिकट नहीं दिया है।’ आनंद राय एक आरटीआई ऐक्टिविस्ट हैं और व्यापम घोटाले का पर्दाफाश करने का श्रेय इन्हें ही जाता है।

अपनी निराशा व्यक्त करते हुए बाद में आरटीआई ऐक्टिविस्ट डॉ. आनंद राय ने ट्वीट करते हुए लिखा, “सितारों के आगे जहाँ और भी है अभी इम्तेहान और भी हैं। लड़ेंगे जीतेंगे।”

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, वहीं दूसरी ओर व्यापम के आरोपी संजीव सक्सेना ने चुनाव में निर्दलीय लड़ने का फैसला किया है। कांग्रेस नेता और एमपी के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह से मुलाकात के बाद सक्सेना ने यह घोषणा की। सक्सेना ने कहा, ‘मैंने कांग्रेस की मजबूती के लिए काम किया है। थोड़ी देर के लिए मुझे लगा कि मेरे साथ धोखेबाजी की गई है, लेकिन अब मैं सब भूलकर बड़े मुद्दों पर ध्यान दूंगा।’

बता दें कि 28 नवंबर को मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए वोट डाले जाएंगे, जबकि वोटो की गिनती 12 दिसंबर को होगी। गौरतलब है कि कांग्रेस पिछले 15 साल से मप्र में सत्ता से बाहर है। इस बार माना जा रहा है कि प्रदेश में शिवराज सिंह के खिलाफ एक माहौल है। कांग्रेस इसी माहौल का फायदा उठाना चाहती है। राहुल गांधी इस चुनाव प्रचार में पूरी तरह से सक्रिय हैं।

Pizza Hut

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here