अमेरिकी कंपनी का कबूलनामा- EVM में था रिमोट से कंट्रोल होने वाला सॉफ्टवेयर

0

इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (EVM) में कथित गड़बड़ी को लेकर जारी विवाद के बीच ईवीएम की सुरक्षा को लेकर एक ऐसी खबर आई है, जिसे चुनाव आयोग के खिलाफ विपक्षी पार्टियां हथियार के रूप में इस्तेमाल कर सकती हैं। पिछले दिनों बसपा प्रमुख मायावती ने बैलट पेपर से चुनाव करने की मांग करते हुए कहा था कि यदि बीजेपी ईमानदार है और लोकतंत्र में विश्वास करती है तो ईवीएम के इस्तेमाल को बंद करे।

इस बीच अमेरिकी वोटिंग मशीन निर्माता कंपनी इलेक्शन सिस्टम एंड सॉफ्टवेयर (ES&S) ने कबूल किया है कि उसके द्वारा बेची गईं कुछ वोटिंग मशीनों में रिमोट टूल इंस्टॉल किए गए थे। बता दें कि ईवीएम बनाने वाली कंपनियों की लिस्ट में इलेक्शन सिस्टम एंड सॉफ्टवेयर (ES&S) का नाम सबसे ऊपर आता है।

इलेक्शन सिस्टम एंड सॉफ्टवेयर कंपनी ने अमेरिकी सेनेटर रॉन वाइडेन को भेजे गए एक पत्र में कहा है कि साल 2000-2006 के बीच कुछ ग्राहकों को बेचे गए ईवीएम में pcAnywhere नाम का एक सॉफ्टवेयर इस्तेमाल किया गया था जिसके जरिए ईवीएम को रिमोट के जरिए हैक किया जा सकता है। कंपनी ने कहा है कि लोकल सरकार को हैंडफुल मशीनें बेची गई थीं।

कंपनी द्वारा सेनेटर को भेजे गए लेटर के मुताबिक 6 साल तक वोटिंग मशीन में रिमोट ऐक्सेस सॉफ्टवेयर था। मदरबोर्ड नाम की एक वेबसाइट की रिपोर्ट में इसका दावा किया गया है और इसके पास वह पत्र भी है जिसमें कंपनी ने जवाब दिए हैं। बता दें कि 2006 में अमेरिका में हुए चुनाव में 60 फीसदी मशीन इलेक्शन सिस्टम एंड सॉफ्टवेयर (ES&S) ने ही दिए थे।

रिपोर्ट के मुताबिक यह सॉफ्टवेयर ईवीएम वोटिंग मशीन में नहीं था, बल्कि इलेक्शन मैनेजमेंट सिस्टम टर्मिनल में था जिसे वोटिंग मशीन को मैनेज करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। PCAnywhere नाम का यह रिमोट सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल 2007 में बंद कर दिया गया था जब अमेरिकी इलेक्शन ऐसिस्टेंस कमीशन ने इलेक्शन मैनेजमेंट टर्मिनल के लिए नई गाइडलाइन पर अमल करना शुरू किया।

बता दें कि पिछले साल इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) की विश्वनीयता पर उठे सवालों के बाद चुनाव आयोग ने सभी राजनीतिक पार्टियों को ईवीएम हैक करने की चुनौती दी थी। सबसे पहले बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने सबसे पहले ईवीएम के साथ छेड़छाड़ का आरोप लगाया था। इसके बाद अन्य दलों ने भी आयोग क समक्ष ईवीएम को लेकर शिकायत दर्ज कराई थी।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here