VIDEO: बीजेपी या कांग्रेस अबकी बार कर्नाटक में किसकी बनेगी सरकार? रिफत जावेद से मतदाताओं बताई ‘मन की बात’

0

कर्नाटक में 12 मई को विधानसभा चुनाव के लिए वोट डाले जाएंगे, जबकि 15 मई को नतीजे घोषित किए जाएंगे। अब  आखिरी समय में सभी राजनीतिक दल सत्ता के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक चुके हैं। इस बार रेस कांग्रेस और बीजेपी के बीच मानी जा रही है, लेकिन जनता दल (सेक्यूलर) भी राज्य में प्रमुख पार्टी है। कांग्रेस जहां राज्य में वापसी के लिए हर हथकंडे को आजमा रही है, वहीं दूसरी तरफ बीजेपी 5 साल बाद फिर से राज्य में अपनी वापसी को लेकर आश्वस्त है।

मतदान से दो दिन पहले ‘जनता का रिपोर्टर’ के प्रधान संपादक व एडिटर इन चीफ रिफत जावेद ने कर्नाटक लोगों के बीच जाकर चुनावी पारा मापने की कोशिश की है। रिफत जावेद ने शहरी और ग्रामीण इलाकों में जाकर युवा, बुजुर्ग और महिलाओं से बातचीत की है और जनता का मूड जानने की कोशिश की गई। रिफत जावेद के मुताबिक मतदाताओं से बातचीत में एक बात तो साफ तौर पर देखने को मिला कि मई 2013 में राज्य की सत्ता संभालने वाले सिद्धारमैया कर्नाटक के ऐसे मुख्यमंत्री हैं जिनकी लोकप्रियता आज भी बरकरार है।

लोगों से बातचीत के बाद रिफत जावेद ने पाया कि सूबे में बीजेपी और कांग्रेस में कांटे की टक्कर है, लेकिन कांग्रेस की स्थिति ज्यादा मजबूत है। जहां शहरी इलाकों में बीजेपी स्थिति ठीक है, वहीं ग्रामीण इलाकों में कांग्रेस काफी मजबूत है। लोगों का कहना है कि कर्नाटक चुनाव में मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और पीएम मोदी के बीच सीधे तौर पर प्रतियोगिता है। वहीं बीजेपी के सीएम पद के उम्मीदवार बीएस येदियुरप्पा इस लड़ाई में कहीं भी नजर नहीं आ रहे हैं।

दिल्ली की मीडिया पूर्व पीएम एचडी देवगौड़ा की जनता दल (सेक्‍युलर) को किंगमेकर की भूमिका में पेश कर रही है, लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और है। दरअसल, मतदाताओं को इस बात का आभासा हो गया है कि कर्नाटक में किसी भी दल को स्पष्ट बहुमत न मिलने की स्थिति में जेडीएस बीजेपी के साथ जा सकता है। यही वजह है कि लोगों का जेडीएस से भरोसा उठता जा रहा है और वे बीजेपी व कांग्रेस को ही मुख्य मुकाबले में देखना चाहते हैं।

रिफत जावेद से मतदाताओं बताई ‘मन की बात’

रिफत जावेद ने जितने भी मतदाताओं से बातचीत की है उस हिसाब से कर्नाटक में सत्‍तारूढ़ कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभर रही है। सबसे बड़ी बात यह है कि रिफत जावेद ने जिन लोगों से बात की है उनका साफ तौर पर कहना है कि मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने काफी काम किया है, जिस वजह से उनके जीतने की उम्मीद काफी ज्यादा है। लोगों से बातचीत के दौरान रिफत तब हैरान रह गए जब बीजेपी समर्थक भी मुख्यमंत्री सिद्धारमैया की तारीफ करते हुए दिखाई दिए।

रिफत से बातचीत में लोगों ने अपनी मन की बात शेयर की। रिफत के मुताबिक लोगों से बातचीत के दौरान वह हैरान हो गए, क्योंकि राज्य में पांच साल सत्ता में रहने के बावजूद सिद्धारमैया की लोकप्रियता अभी भी बरकरार है। उनके मुताबिक कांग्रेस और पीएम मोदी दोनों के समर्थक सिद्धारमैया के फैन हैं। रिफत के मुताबिक उन्होंने पहली बार किसी राज्य में ऐसी स्थिति देखी है जहां विपक्ष के बीच भी सत्ता विरोधी लहर नहीं है।

 

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here