सुशांत सिंह राजपूत के अंतिम संस्कार से लौटकर विवेक ओबेरॉय ने सोशल मीडिया पर साझा किया दर्द, लिखा दर्दभरा पोस्ट

0

सुशांत सिंह राजपूत का सोमवार को मुंबई के व‍िले पार्ले स्‍थित श्‍‍मशान घाट पर परिवार के सदस्यों और करीबी दोस्तों की मौजूदगी में अंतिम संस्कार किया गया। बता दें कि, 34 वर्षीय अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत को रविवार (14 जून) को मुंबई के बांद्रा स्थित उनके अपार्टमेंट में फांसी पर लटका पाया गया था, उनकी मौत की खबर सुनकर हर कोई हैरान है। इस घटना पर सोशल मीडिया पर तरह-तरह की प्रतिक्रयाएं सामने आ रही हैं। उनके अंतिम संस्कार से लौटे अभिनेता विवेक ओबेरॉय काफी दुखी हैं और उन्होंने अपना दर्द सोशल मीडिया पर साझा किया है। विवेक ओबेरॉय ने एक पोस्ट अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है। उन्होंने अफसोस जताया है कि काश सुशांत ये रास्ता न चुनते और विवेक उनसे अपना अनुभव साझा कर पाते।

सुशांत सिंह राजपूत

विवेक ओबेरॉय ने अपने पोस्ट में लिखा, सुशांत के अंतिम संस्कार में मौजूद होना दिल चीरने वाला था। काश मैं उनसे अपना व्यक्तिगत अनुभव शेयर कर पाता और उनके दर्द में थोड़ी राहत पहुंचा पाता। मैं भी इस दर्द से गुजरा हूं, यह अंधेरेपन और अकेलेपन से भरा हो सकता है। लेकिन मौत इसका हल नहीं है, आत्महत्या किसी चीज का उपाय कभी नहीं हो सकती। काश उन्होंने रुककर अपनी फैमिली, दोस्त और करोड़ों फैंस के बारे में सोचा होता जो उनको खोने का दुख महसूस कर रहे हैं… उन्हें अहसास होता कि लोग कितनी केयर करते हैं! जब मैंने उनके पिता को सुशांत की चिता में आग लगाते देखा, उनकी आंखों का दर्द बर्दाश्त नहीं किया जा रहा था, जब उनकी बहन को रोते हुए सुना, वह उनसे वापस आने की भीख मांग रही थीं, बता नहीं सकता कितनी गहराई तक दर्द महसूस हुआ मुझे।

अभिनेता ने अपने पोस्ट में आगे लिखा, आशा करता हूं कि हमारी इंडस्ट्री जो खुद को एक परिवार बताती है, थोड़ा आत्मनिरीक्षण करेगी। बेहतरी के लिए हमें बदलना होगा, हमें बकवास कम और ज्यादा केयर करनी होगी, पावर प्ले कम और ज्यादा ग्रेस और बड़ा दिल दिखाना होगा, ईगो कम और योग्य टैलंट को पहचान देनी होगी। इस फैमिली को वाकई फैमिली बनने की जरूरत है जहां प्रतिभा का पोषण हो न कि उसे कुचल दिया जाए, एक जगह जहां आर्टिस्ट का सम्मान किया जाए न कि चालाकी की जाए। यह हम सबके लिए वेकअप कॉल है। मैं उस हमेशा मुस्कुराने वाले सुशांत सिंह राजपूत को याद रखूंगा, मैं प्रार्थना करता हूं कि ईश्वर आपका वो सारा दर्द ले ले मेरे भाई जो तुमने झेला है और तुम्हारे परिवार को इस नुकसान को झेलने की ताकत दे। मैं प्रार्थना करता हूं कि तुम बेहतर जगह होगे, हम लोग तुम्हारे काबिल नहीं थे।

बता दें कि, बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने मुंबई के बांद्रा स्थित अपने घर में रविवार (14 मई) की सुबह फांसी लगाकर जान दे दी थी। इस खबर ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया था। उनकी मौत की खबर सुनकर हर कोई हैरान है, किसी को अंदाजा नहीं था कि फिल्म जगत का एक ऐसा कलाकार जिसने इतने थोड़े से वक्त में इतना मुकाम हासिल किया है वो कुछ ऐसा कदम उठा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here