वीरेंद्र सहवाग के नाम पर नेताओं ने की वोट मांगने की कोशिश, पूर्व क्रिकेटर ने ट्विटर पर निकाला गुस्सा

0

अपने अनोखे और चुटीले अंदाज में ट्वीट करने के लिए सुखिर्यों में रहने वाले टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने शनिवार को ट्विटर पर उन लोगों पर गुस्सा उतारा है, जिन्होंने उनके नाम पर वोट लेने की कोशिश कर रहे हैं।

वीरेंद्र सहवाग
(Photo by Parveen Kumar/Hindustan Times via Getty Images)

वीरेंद्र सहवाग ने शनिवार (1 दिसंबर) को अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर पोस्ट कर एक झूठे विज्ञापन के बारे में जानकारी दी। इस विज्ञापन में एक राजनीतिक पार्टी ने उनके नाम का इस्तेमाल किया है। इस पार्टी ने अपने विज्ञापन में एक रैली की जानकारी दी और कहा कि इस रैली में क्रिकेटर वीरेंदर सहवाग भी हिस्सा लेने वाले हैं। इसके बाद वीरेंदर ने ट्वीट कर ‘झूठों से सावधान’ रहने की चेतावनी दी है।

दरअसल, एक अखबार में छपे विज्ञापन में कहा गया है कि राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के आसीन्द-हुरड़ा विधानसभा प्रत्याशी मनसुख गुर्जर के समर्थन में आयोजित विशाल किसान सम्मेलन में पार्टी संस्थापक हनुमान जी बेनीवाल के साथ वीरेंद्र सहवाग भी संबोधन देंगे।

विज्ञापन में सम्मेलन को सफल बनाने के लिए अधिक से अधिक संख्या में लोगों को आने के लिए कहा गया था। इस सम्मेलन का स्थान राजस्थान के आसीन्द, सवाई भोज मेला ग्राउण्ड बताया गया है। विज्ञापन में सम्मेलन की तारिख 29 नवंबर लिखा है।

वहीं, वीरेंद्र सहवाग ने इस विज्ञापन पर अपना गुस्सा निकालते हुए अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर लिखा, “झूठ अलर्ट- मैं दुबई में हूँ और इन्मे से किसी व्यक्ति से कभी सम्पर्क नहीं हुआ! जब यह लोग बेशर्मी से अपने कैम्पेन के नाम पर मेरा नाम धोकाधड़ी से इस्तेमाल कर लोगों को बेवक़ूफ़ बना सकते हैं,तो अंदाज़ा लगाया जा सकता है की यदि यह कहीं जीत गए तो कितना बेवक़ूफ़ बनाएँगे! झूठों से सावधान”

बता दें कि राजस्थान में 200 सीटों के लिए सात दिसंबर को मतदान होना है, जबकी वोटों की गिनती 11 दिसंबर को होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here