विजय माल्या ने याद कराए मीडिया चैनलों पर अपने पुराने एहसान, कहा अर्नब गोस्वामी को जाना चाहिए जेल

0

करोड़पति और शराब के कारोबारी विजय माल्या ने मीडिया चैनलों के मालिकों पर पलटवार किया है, विजय माल्या का आरोप है कि मिडिया चैनल्स उनके खिलाफ झूठ बोल रहे हैं।

माल्या ने सोशल मीडिया पर ट्वीट कर के मीडिया चैनलों के मालिकों को अपने पुराने एहसान याद दिलाए और नाम न लेते हुए टाइम्स नाउ चैनल के मुख्य संपादक अर्नब गोस्वामी पर हमला करते हुए कहा कि उन्हें जेल के कपड़ों में होना चाहिए और जेल का खाना खाना चाहिए।

उन्होंने ट्वीट किया, “टाइम्स नाउ के संपादक को इतने घटिया और छलपूर्ण झूठ दिखने के बाद अब जेल का खाना खाना चाहिए और जेल के कपडे पहनने चाहिए। उन मीडिया चैनलों के मालिकों को अपने टीआरपी के लिए वह पुराने एहसान नहीं भूलने चाहिए जो उनपर मैंने किये हैं।”

माल्या ने मीडिया के बातों को नकारते हुए कहा कि वह कोई भगोड़ा नहीं है और न ही वो भारत छोड़ कर भागे है।

उन्होंने ट्वीट किया, ” मैं एक अंतराष्ट्रीय बिजनेसमैन हैं और मेरा भारत के बाहर आना और जाना लगा रहता है। मैं भारत छोड़ कर नहीं भगा हूँ और न मैं कोई भगोड़ा हूँ। मैं भारत का एक सांसद हूँ और मुझे अपने कानून व्यवस्था में पूरा विश्वास है, लेकिन मैं कोई भी मीडिया ट्रायल बर्दाश्त नहीं करूंगा’|

माल्या ने बैंक की रिपोर्ट पर काफी हैरानी जताई है कि बैंकों को उनकी सम्पति का कोई ब्यौरा नहीं मिला है।

वह कहते हैं, “मीडिया कह रही है कि मुझे अपनी सम्पति का ब्यौरा देना चाहिए। इसका मतलब यह है कि बैंक के पास मेरी पूंजी का कोई ब्यौरा नहीं? अगर एक बार आपके पीछे मीडिया पड़ जाए तो आपके कागजात और सच्चाई सब उनके लिए बेबुनियाद हो जाते हैं।

विजय माल्या का टाइम्स नाउ पर गुस्सा तब बाहर आया जब न्यूज़ चैनल ने लगातार बिना रुके माल्या को 9 हज़ार करोड़ रूपये के साथ भारत से बहार फरार होने की खबर दिखाई थी।

चैनल ने अपनी रिपोर्टिंग में किंगफ़िशर के पुराने कर्मचारियों का इंटरव्यू भी दिखाया।

संजय बहादुर जो एक पुराने कर्मचारी थे उन्होंने बताया कि कैसे बड़े राजनेता और मीडिया चैनल के मालिक विजय माल्या के पैसे पर महंगी जगहों पर छुट्टी मनाने जाया करते थे।

LEAVE A REPLY