विद्या बालन, सौम्या टंडन, रज़ा मुराद और अरशद वारसी ने पैसे के लिए अपनी आत्मा को बेचने से किया इनकार

0

मशहूर खोजी वेबसाइट कोबरापोस्ट ने मंगलवार को भारतीय मनोरंजन उद्योग की 36 ऐसी हस्तियों को उजागर किया है, जो 2019 के लोकसभा चुनावों में अनुकूल माहौल बनाने में मदद करने के लिए पैसे लेकर अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर अनुकूल संदेश पोस्ट करके एक राजनीतिक पार्टी को बढ़ावा देने के लिए सहमत हुए हैं। इन हस्तियों में टीवी और फिल्मों के दिग्गज अभिनेता के आलावा गायक, सोशल मीडिया सेलिब्रिटी और स्टैंड-अप कॉमेडियन तक शामिल है। इन हस्तियों ने कैमरे के सामने स्वीकार किया कि वो पैसे के बदले राजनीतिक दल को बढ़ावा दे सकते है। उनमें से अधिकांश लोग नकद में पैसा लेने के लिए तैयार थे, जिसका दूसरे शब्दों में अर्थ है ‘काला धन’।

कोबरापोस्ट

इन हस्तियों में गायक अभिजीत भट्टाचार्य, कैलाश खेर, मीका सिंह और बाबा सहगल शामिल है। अभिनेता जैकी श्रॉफ, शक्ति कपूर, विवेक ओबेरॉय, सोनू सूद, अमीषा पटेल, महिमा चौधरी, श्रेयस तलपड़े, पुनीत इस्सर, सुरेंद्र पाल, पंकज धीर और उनके बेटे निकितिन धीर, टिस्का चोपड़ा, दीपशिखा नागपाल, अखिलेश मिश्रा, मिशाल मिश्रा , सलीम जैदी, राखी सावंत, अमन वर्मा, हितेन तेजवानी और पति गौरी प्रधान, एवलिन शर्मा, मिनिषा लांबा, कोएना मित्रा, पूनम पांडे, सनी लियोन, हास्य कलाकार राजू श्रीवास्तव, सुनील पाल, राजपाल यादव, उपासना सिंह, कृष्ण अभिषेक और विजय ईश्वरलाल पवार, और कोरियोग्राफर गणेश आचार्य और और बिग बॉस की पूर्व प्रतियोगी संभावना सेठ शामिल हैं।

हालांकि, इनमे चार हस्तियां ऐसी भी शामिल थी जिन्होंने कोबरापोस्ट टीम द्वारा किए गए वित्तीय प्रस्ताव के लालच में अपनी आत्मा को बेचने से इनकार कर दिया। वे कलाकार थे अरशद वारसी, विद्या बालन, सौम्या टंडन और भाबी जी घर पर हैं फेम अभिनेत्री सौम्या टंडन।

जब सौम्या से फोन पर संपर्क किया गया तो उन्होंने इस प्रस्ताव को सिरे से खारिज कर दिया। उन्होंने कहा कि, हम व्यक्तिगत लाभ के लिए किसी भी राजनीतिक पार्टी से जुड़ाव नहीं रखना चाहते हैं यह मेरे सिद्धांतों के खिलाफ है। साथ ही उन्होंने कहा कि आपको ऐसे बहुत अभिनेता मिलेंगे जो पैसे के लिए कुछ भी करना चाहते हैं। लेकिन अगर मैं किसी भी पार्टी के लिए काम करने का फैसला करती हूं तो मैं केवल तभी करूंगी जब मैं वास्तव में इस पर विश्वास करूंगी।

दिग्गज अभिनेता रज़ा मुराद ने भी इस गंदे खेल का हिस्सा बनने से इनकार कर दिया साथ ही उन्होंने कहा गया कि उनका ट्विटर अकाउंट भी नहीं है। वहीं, अरशद वारसी ने भी इस काम को करने से इनकार कर दिया। उनके मैनेजर ने कहा, संदीप जी, मैंने कल सर (अरशद वारसी) से बात की थी। उन्होंने कहा कि दुर्भाग्य से, हम राजनीतिक अभियान नहीं कर पाएंगे। सर ने सोचा था कि यह कुछ और है।

वहीं, विद्या बालन ने भी इस साल होने वाले चुनावों के लिए पार्टी के राजनीतिक एजेंडे को आगे बढ़ाने के लिए अपने अपने सोशल मीडिया अकाउंट का उपयोग करने के बदले पैसे लेने से इनकार कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here