VIDEO: मध्य प्रदेश के सरकारी स्कूल में शौचालय साफ करते दिखे बच्चे, डीएम बोलीं- इसमें कुछ गलत नहीं

0

मध्य प्रदेश में खंडवा जिला मुख्यालय से करीब सात किलोमीटर दूर ग्राम सिहाडा स्थित एक सरकारी प्राथमिक स्कूल में दो छात्रों से शौचालय साफ कराने का एक कथित वीडियो वायरल हुआ है। यह वीडियो सामने आने के बाद खंडवा की जिलाधिकारी तनवी सुंदरिया का कहना है कि बच्चों को सफाई की प्रैक्टिकल जानकारी दी जा रही है, इसमें कुछ भी गलत नहीं है।

मंगलवार को वायरल हुए इस कथित वीडियो में कक्षा चौथी के दो विद्यार्थी झाडू से शौचालय साफ करते हुए नजर आ रहे हैं। यह वीडियो सोमवार को बनाया गया है। इसके वायरल होने के बाद बच्चों के परिजन स्कूल की प्रधान शिक्षिका गुलाब सोनी के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। कुछ खबरों में दावा किया गया है कि छात्रों को सफाई के लिए अतिरिक्त अंक दिये जाने का वादा किया गया था।

वहीं, अपने विरूद्ध लगाये गये आरोप को नकारते हुये स्कूल की प्रधान शिक्षिका गुलाब सोनी ने स्पष्टीकरण देते हुए कहा, ‘‘शौचालय की दीवार पर कीचड़ हो गया था। सोमवार को आधी छुट्टी के दौरान बच्चे बाहर निकले। शौचालय की दीवार पर कीचड़ था। वहां पर बच्चों ने टाइल्स पर पानी डाल उसे साफ कर दिया। इसमें कौन सी बड़ी बात हो गई। हम हमारे यहां हर महीने में दो बार शौचालय की सफाई करवाते हैं।’’

इसी बीच, खंडवा जिले की कलेक्टर तन्वी सुंदरियाल इस पूरे मामले को सकारात्मक रूप में ले रही हैं। वह इस मामले को अच्छा काम बताती हैं। तन्वी ने प्रधान शिक्षिका का पक्ष लेते हुए कहा, ‘‘अगर सफाई कराई है तो अच्छा है।’’ उन्होंने जापान का उदाहरण देकर कहा कि वहां के सारे बच्चे काम में लगे रहते हैं, इसलिए उन्हें लगता है कि ये स्कूल हमारा है। तन्वी ने कहा, ‘‘अगर किसी एक जाति विशेष से ही शौचालय साफ कराया जाता तो गलत होता। बच्चे शौचालय क्या पूरे स्कूल परिसर को साफ करते हैं तो इसमें कुछ गलत नहीं है।’’

गौरतलब है कि ग्राम सिहाडा के स्कूल में पढ़ने वाले एक छात्र के परिजन स्कूल शौचालय की तरफ चले गये थे। उन्होंने जैसे ही बच्चों को सफाई करते देखा, मोबाइल से वीडियो बना लिया। वीडियो वायरल होने के बाद प्रधान शिक्षिका गुलाब सोनी अवकाश पर चली गयी हैं।

देखिए वीडियो

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here