उत्तर प्रदेश के हाथरस में दो हफ्ते पहले गैंगरेप का शिकार हुई पीड़िता की इलाज के दौरान दिल्ली के अस्पताल में मौत

0

उत्तर प्रदेश के हाथरस में दो हफ्ते पहले गैंगरेप की शिकार हुई 19 वर्षीय पीड़िता ने मंगलवार को इलाज के दौरान दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया। महिला के साथ 14 सितंबर 2020 को हाथरस में सामूहिक बलात्कार हुआ था। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पीड़िता की हालत बहुत बुरी थी और उसके शरीर में कई जगह फ्रैक्चर आए थे। हैवानों ने गैंगरेप के बाद उसकी जीभ तक काट दी थी।

हाथरस

19 वर्षीय लड़की के साथ 14 सितम्‍बर को हाथरस के चंदपा थाना क्षेत्र के एक गांव में दरिंदगी हुई थी। पीड़िता पिछले दो हफ्ते से अलीगढ़ के जेएन मेडिकल कालेज में भर्ती थी। वहां हालत में कोई सुधार नहीं होने पर उसे दिल्‍ली के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इस मामले में चार आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। लेकिन शुरुआत में पुलिस की कार्रवाई पर सवाल भी उठे। पीड़िता दलित जाति से थी। वहीं, सभी आरोपी कथित रूप से उच्च जाति से संबंध रखते हैं।

पीड़िता के परिवार का आरोप है कि यूपी पुलिस ने उनकी शिकायत पर पहले कोई एक्शन नहीं लिया। लेकिन मामले पर गुस्सा बढ़ने लगा, जिसके बाद पुलिस हरकत में आई। इस बीच, कई राजनीतिक दलों के लोगों ने भी अस्पताल पहुंचकर पीड़िता से मिलने के साथ जमकर हंगामा भी किया था।

घटना के 9 दिन बीत जाने के बाद पीड़िता होश में आई तो अपने साथ हुई आपबीती अपने परिजनों को बताई। जब पीड़िता का डॉक्टरी परीक्षण हुआ तो इसमें गैंगरेप की पुष्टि होने के बाद हाथरस पुलिस ने तीन युवकों को गिरफ्तार किया। बाद में चौथा आरोपी भी गिरफ्तार कर लिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here