संविधान दिवस की पूर्व संध्या पर मुख्य न्यायाधीश ने PM मोदी और उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू को दिया रात्रि भोज

0

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार (25 नवंबर) को संविधान दिवस की पूर्व संध्या पर भारत के मुख्य न्यायाधीश (सीजेआई) रंजन गोगोई द्वारा आयोजित रात्रिभोज में भाग लिया। इसस अवसर पर बांग्लादेश, म्यांमा, थाईलैंड, नेपाल और भूटान के मुख्य न्यायाधीशों और अन्य न्यायाधीश भी उपस्थित थे। ये लोग बिम्सटेक (बंगाल की खाड़ी बहु-क्षेत्रीय तकनीकी और आर्थिक सहयोग पहल) सम्मेलन में भाग लेने के लिए यहां आए हुए है।

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने ट्विटर पर इस कार्यक्रम की तस्वीरें पोस्ट कीं, जिसमें उन्हें पीएम मोदी और मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई के साथ देखा जा सकता है। 1949 में संविधान सभा द्वारा भारतीय संविधान को अपनाने के लिए 26 नवंबर को हर साल संविधान दिवस मनाया जाता है।

संभवतया यह पहली बार है कि प्रधानमंत्री मोदी ने उच्चतम न्यायालय परिसर में आयोजित कार्यक्रम में भाग लिया। उपराष्ट्रपति ने ट्वीट किया, “संविधान दिवस समारोहों की पूर्व संध्या पर भारत के मुख्य न्यायाधीश द्वारा आयोजित रात्रिभोज में भाग लिया। पड़ोसी देशों के मुख्य न्यायाधीशों से मुलाकात और बातचीत करके प्रसन्नता हुई।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here