उत्तरप्रदेश में दो हज़ार किसान परिवारों ने मांगी इच्छा मृत्यु

0

उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में दो हज़ार किसान परिवारों ने राष्ट्रपति से मांगी इच्छा मृत्यु की मांग की है।

किसान पंचायत के दौरान किसानों ने फैसला किया कि वो लोग राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री के अलावा मुख्य न्यायाधीश को दो हजार पत्र भेजकर इच्छा मृत्यु देने की मांग करेंगे।

Also Read:  अरुणाचल प्रदेश: पेमा खांडू की पीपीए सरकार में शामिल हुई भाजपा

दरअसल मेरठ के इन हज़ारो किसानों ने मेरठ विकास प्राधिकरण (एमडीए) पर वादा खिलाफी का आरोप लगाया है। मेरठ के गंगानगर, लोहियानगर और वेदव्यास पुरी के किसानों के मुताबिक मेरठ विकास प्राधिकरण के अधिकारी प्रतिकर के बदले भूखंड दिए जाने के प्रस्ताव को नकार रहे है। ये सरासर वादा खिलाफ़ी है और किसानों के साथ धोखा है।

Also Read:  स्कूलों में योग को अनिवार्य करने वाली याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने किया खारिज

अमर उजाला के मुताबिक एमडीए अधिकारियों द्वारा समझौते को नकारने पर कुछ किसान काफी आहत हुए। जिसमें पिछले दस दिनों में तीन किसानों की हार्टअटैक से मौत भी हो चुकी है। किसानों के मुताबिक ऐसे मुश्किल हालातों में उनके पास आत्महत्या के अलावा कोई रास्ता नहीं है।

Also Read:  RSS की संस्थाओं को दी गई ज़मीनें यूपीए-1 ने की थी रद्द, मोदी सरकार ने किया बहाल करने का फैसला

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here