यूपी निकाय चुनाव: कानपुर और मेरठ के कई बूथों पर फर्जी मतदान को लेकर हंगामा, मतदाताओं का आरोप- ‘जो भी बटन दबाओं, BJP को जा रहा है वोट’

0

कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच उत्तर प्रदेश नगर पालिकाओं, नगर निकायों और नगर परिषदों (नगरीय निकाय चुनाव) के चुनाव के लिए 24 जिलों में पहले चरण का मतदान बुधवार (22 नवंबर) सुबह 7.30 बजे जारी है, जो शाम पांच बजे तक चलेगा। मतदान केंद्रों से लेकर बूथों तक सुरक्षा व्यवस्था के व्यापक इंतजाम किए गए हैं।

PHOTO: @News18India

सुबह से ही भारी संक्या में लोग बूथों पर मतदान करने पहुंच रहे हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी अपने गृह जनपद गोरखपुर में मतदान करने पहुंचे और वोट डाला। इस चरण में 24 जिलों की 230 नगर निकायों के लिए 1.09 करोड़ मतदाता प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे। कुल 4325 सीटों के लिए 26314 प्रत्याशी चुनाव मैदान में डटे हैं।

फर्जी मतदान को लेकर हंगामा

इस बीच मेरठ और कानपुर में कई बूथों पर वोटिंग मशीन खराब होने और कथित रूप से मतदाताओं द्वारा भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के पक्ष में फर्जी मतदान के आरोप को लेकर हंगामा हुआ। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, मेरठ में एक दो स्‍थानों पर ईवीएम में गड़बड़ी की सूचना मिलने पर प्रशासन ने मशीनें बदलवा दीं।

खबरों के मुताबिक जेल चुंगी के समीप एक बूथ पर ईवीएम में गलत वोट पड़ने की शिकायत मिली। मतदाताओं का आरोप था कि वे बटन किसी का दबा रहे हैं और वोट बीजेपी को ही जा रही है। हंगामे के बाद वहां पहुंचे एडीएम ने ईवीएम बदलवा दी है। ऐसा ही मामला कानपुर में भी सामने आया है।

न्यूज वेबसाइट वनइंडिया और न्यूज 18 इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, कानपुर के चकेरी क्षेत्र में वॉर्ड 58 में वोटिंग करने पहुंचे मतदाताओं का आरोप है की ईवीएम में किसी भी पार्टी का बटन दबाने पर बीजेपी को वोट जा रहा है। चकेरी के तिवारीपुर वॉर्ड में बूथ 58 पर वोटिंग करके निकले मतदाताओं ने आरोप लगाया कि चाहे किसी भी पार्टी के पक्ष में वोट डालो वो सब बीजेपी में जा रहा है। विपक्षी पार्टी के लोगों को जब जानकारी हुई तो उन्होंने बूथ के बाहर हंगामा करना शुरू कर दिया।

रिपोर्ट के मुताबिक लोगों का कहना है की चाहे पंजे का बटन दबाओ या साइकिल का, लेकिन बत्ती केवल कमल की जल रही है। जब कमल का बटन दबाया जा रहा है तब भी केवल कमल की बत्ती जल रही है। लोगों का कहना है की ये आम जनता के साथ धोखा किया जा रहा है। हंगामा बढ़ता देख अधिकारियों ने शिकायत पर कार्रवाई करते हुए पीठासीन अधिकारी को हटा दिया है और बूथ की ईवीएम मशीन भी बदल दी गई है। फिलहाल मतदान जारी है।

इन जिलों में डाले जा रहे हैं वोट

पहले चरण में पांच नगर निगम-मेरठ, आगरा, कानपुर नगर, अयोध्या-फैजाबाद व गोरखपुर के साथ ही 71 नगर पालिका परिषद व 154 नगर पंचायतों में मतदान हो रहा है। जिन जिलों में वोट डाले जा रहे हैं उनमें शामली, मेरठ, हापुड़, बिजनौर, बदायूं, हाथरस, कासगंज, आगरा, कानपुर नगर, जालौन, हमीरपुर, चित्रकूट, कौशाम्बी, प्रतापगढ़, उन्नाव, हरदोई, अमेठी, फैजाबाद, गोंडा, बस्ती, गोरखपुर, आजमगढ़, गाजीपुर और सोनभद्र शामिल है।

1 दिसंबर को आएंगे नतीजे

बता दें कि सत्तारूढ़ बीजेपी के लिए यह चुनाव सबसे अहम है। निकाय चुनाव के नतीजे एक दिसंबर को आएंगे। ये चुनाव कुल तीन चरणों में होंगे। पहले चरण में आज राज्य के 24 जिलों में मतदान हो रहा है। वहीं दूसरे तरण में राज्य के 25 जिलों के मतदाता 26 नवंबर को मतदान करेंगे।

जबकि तीसरे चरण में 29 नवंबर को बाकी 26 जिलों के मतदाता स्थानीय चुनाव के लिए मतदान करेंगे। इन चुनाव में 3.32 करोड़ मतदाता 36,269 मतदान बूथ पर वोट डालेंगे जिसके लिए कुल 11,389 मतदान केंद्र बनाए गए हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here