अमेरिका ने किया भारत का समर्थन – उड़ी हमला ‘सीमापार से आतंकवाद’, भारत को आत्मरक्षा का हक

0

उड़ी हमले को ‘‘सीमा पार आतंकवाद का स्पष्ट मामला’’ बताते हुए इसके बाद भारत की कार्रवाई को ‘‘आत्मरक्षा का अधिकार’’ कहकर इसका समर्थन करने वाले अमेरिका ने आज युद्ध प्रभावित अफगानिस्तान की शांति को कश्मीर मुद्दे पर प्रस्ताव के साथ जोड़ने के पाकिस्तान के हालिया प्रयास को खारिज कर दिया।

Also Read:  Kashmir issue ''main cause of unrest'' in region: Nawaz Sharif
White House
Photo: India.com

व्हाइट हाउस ने हालिया लक्षित हमले को लेकर भारत की खुद की रक्षा के अधिकार का समर्थन किया लेकिन दोनों पड़ेासी देशों के बीच सीमा पर भारी सैन्य तैनाती को लेकर चेताया. अमेरिका ने कहा कि अमेरिका यह सुनिश्चित करने का पूरा प्रयास कर रहा है कि भारत इस साल के अंत तक परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (एनएसजी) का सदस्य बने।

भाषा की खबर के अनुसार, व्हाइट हाउस के दक्षिण एशिया मामलों के प्रभारी पीटर लावोय ने कहा कि भारत अमेरिका संबंध अमेरिका के लिए ‘‘बहुत गतिशील संबंध’’ हैं। उन्होंने विश्व के दो सबसे बड़े लोकतंत्रों के बीच संबंध मजबूत करने में ओबामा प्रशासन की उपलब्धियां गिनाईं।

Also Read:  अमेरिकी समाचार पत्र वाल स्ट्रीट ने पाकिस्तान के लिए लिखा- भारत के संयम को अधिक समय तक हल्के में लेने की गलती न करे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here