उरी आतंकी हमला कश्मीर के हालात की प्रतिक्रिया हो सकता है: पाकिस्तानी पीएम नवाज शरीफ

0

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने ‘सबूतों के बिना’ पाकिस्तान पर दोषारोपण करने को लेकर भारत की निंदा की और दावा किया कि उरी में हुआ आतंकवादी हमला कश्मीर में हालात को लेकर लोगों की ‘प्रतिक्रिया’ का परिणाम हो सकता है।

भाषा कि खबर के अनुसार, शरीफ ने लंदन में संवाददाताओं से कहा, ‘उरी हमला कश्मीर में ज्यादतियों की प्रतिक्रिया हो सकता है, क्योंकि पिछले दो महीनों में मारे गए लोगों और अपनी आंखें गंवाने वाले लोगों के प्रियजन व करीबी रिश्तेदार आहत और गुस्से में हैं।’

Also Read:  38 दिनों से फरार चल रहीं हनीप्रीत को हरियाणा पुलिस ने किया गिरफ्तार

शरीफ संयुक्त राष्ट्र महासभा सत्र में भाग लेने के बाद न्यूयॉर्क से आते समय लंदन में रुके थे। शरीफ ने कहा कि भारत ने बिना किसी जांच के पाकिस्तान को जल्दबाजी में दोषी ठहरा दिया। उन्होंने कहा कि भारत ने पाकिस्तान को ‘बिना किसी सबूत’ के जिम्मेदार ठहराकर ‘गैरजिम्मेदाराना तरीके’ से व्यवहार किया।

Congress advt 2

पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट्स में शरीफ के हवाले से कहा गया, ‘भारत कोई जांच किए बिना उरी घटना के चंद घंटों बाद पाकिस्तान पर आरोप कैसे लगा सकता है।’ उन्होंने आरोप लगाया कि ‘पूरी दुनिया’ कश्मीर में ‘भारत के अत्याचारों के बारे में जानती है’ जहां ‘अब तक करीब 108 लोग मारे जा चुके हैं और 150 लोग आंखें गंवा चुके हैं और हजारों लोग घायल हुए हैं।’

Also Read:  अभिनेत्री को बदमाशों ने अगवाकर किया यौन उत्पीड़न, एक आरोपी गिरफ्तार

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने ‘निर्दोष कश्मीरियों के खिलाफ की जा रही’ कथित ‘ज्यादतियों’ पर जोर देते हुए कहा कि पाकिस्तान पर आरोप लगाने से पहले भारत को कश्मीर में ‘अपनी नृशंस भूमिका’ को देखना चाहिए। शरीफ ने कहा कि जम्मू-कश्मीर विवाद के समाधान के बिना क्षेत्र में स्थाई शांति स्थापित करना असंभव है।

Also Read:  With dreams in their eyes, Kashmiri students head to Jammu

गौरतलब है कि बीते रविवार की सुबह जम्मू कश्मीर के उरी में सैन्य शिविर पर जैश ए मोहम्मद के आतंकवादियों के हमले में 18 जवान शहीद हो गए थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि इस निंदनीय कृत्य को अंजाम देने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। इस घटना के बाद भारत और पाकिस्तान में राजनयिक स्तर पर काफी तनाव पैदा हो गया है और दोनों पक्ष एक दूसरे पर निशाना साध रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here