उत्तर प्रदेश के राजभवन में कार्यरत कर्मचारियों पर हर महीने 40 लाख रुपये होता है खर्च, RTI से हुआ खुलासा

0

उत्तर प्रदेश के राज्यपाल के आवास राजभवन में 86 कर्मी कार्यरत हैं। इनमें से प्रमुख तथा विशेष सचिव का वेतन शासन द्वारा वहन किया जाता है, जबकि अन्य कर्मियों के वेतन के लिए करीब 40 लाख रुपये का खर्च आता है। यह जानकारी आरटीआई कार्यकर्ता डा. नूतन ठाकुर को राजभवन के जन सूचना अधिकारी की ओर से दी गई है।

(Ashok Dutta/Hindustan Times)

समाचार एजेंसी IANS के मुताबिक राजभवन के जन सूचना अधिकारी हेमंत कुमार चौधरी द्वारा डा. ठाकुर को दी गई सूचना के अनुसार राज भवन में कुल 86 कर्मी काम करते हैं। इनमें एक प्रमुख सचिव, एक विशेष सचिव तथा एक विधि परामर्शी हैं। साथ ही चार विशेष कार्याधिकारी, चार निजी सचिव तथा अन्य सचिवालयीय सहायक हैं।

इनके अलावा 1 शेफ, 1 स्टीवर्ड, 6 चालक, 3 वरिष्ठ अनुसेवक तथा 19 अनुसेवक हैं। इनके साथ 16 बेयरर, 5 सहायक बेयरर, 3 मेट, 2 कुक, 1 टेलर, 1 रजक तथा 5 सफाईकर्मी हैं। प्रमुख तथा विशेष सचिव के वेतन शासन से मिलते हैं जबकि अन्य कर्मियों का मासिक वेतन 39,70,530 रुपये है।

सूचना अधिकारी ने राजभवन की सुरक्षा के लिए विभिन्न शासकीय पुलिस कर्मियों की संख्या तथा उनका मासिक वेतन आरटीआई के अधीन अपवर्जित बताते हुए मना कर दिया। इस पर नूतन का कहना है कि मना करने का कारण सही नहीं दिखता है और वे इसके खिलाफ अपील करेंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here