उत्तर प्रदेश: सामूहिक बलात्कार मामले में भदोही के BJP विधायक को क्लीनचिट, भतीजा गिरफ्तार

0

उत्तर प्रदेश के भदोही से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक रविंद्रनाथ त्रिपाठी को पुलिस ने सामूहिक बलात्कार केस में क्लीनचिट दे दी, क्योंकि उसके खिलाफ कोई सबूत नहीं मिला है। वहीं, इस बलात्कार के मामले में पुलिस ने भाजपा विधायक के भतीजे को गिरफ्तार किया है।

उत्तर प्रदेश

गौरतलब है कि, हाल ही में वाराणसी की एक विधवा महिला ने भाजपा विधायक के साथ उनके बेटे-भतीजे सहित सात पर आईपीसी 376 डी, 313, 504 व 506 के तहत यह मुकदमा दर्ज कराया था। इस महिला ने पुलिस को भाजपा विधायक के भतीजे को लेकर कई सबूत भी पुलिस को सौंपे थे। महिला के आरोप व साक्ष्य के आधार पर भदोही पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया था।

महिला ने आरोप लगाया था कि 2017 में विधानसभा चुनाव के दौरान भदोही के एक होटल में रवींद्रनाथ त्रिपाठी, और उनके भतीजों ने उसके साथ रेप किया था।

भदोही पुलिस अधीक्षक आरबी सिंह ने शनिवार को प्रेसवार्ता में बताया कि वाराणसी की महिला की शिकायत पर विधायक समेत सात पर मुकदमा दर्ज करने के बाद इसकी विवेचना अपर पुलिस अधीक्षक रविंद्र कुमार वर्मा के नेतृत्व में गठित भदोही पुलिस व क्राइम टीम को सौंपी गई थी। पुलिस ने इस मुकदमे की विवेचना के दौरान बीजेपी विधायक के भतीजे संदीप तिवारी पुत्र आदित्यनाथ तिवारी को महिला के साथ दुराचार में धारा 376/504 /506 में शामिल पाया।

पुलिस अधिकारी ने कहा कि भाजपा विधायक के पुत्र नितेश तिवारी को धारा 504/506 में लिप्त पाया। विधायक के भतीजे संदीप तिवारी को दिव्या होटल से पुलिस ने शनिवार को सुबह गिरफ्तार कर लिया। इस मुकदमे की विवेचना के दौरान विधायक रविंद्रनाथ तिवारी पुत्र विक्रमादित्य तिवारी, सचिन तिवारी,चंद्रभूषण तिवारी, दीपक तिवारी, प्रकाश तिवारी की इस मुकदमे में नामजदगी गलत पाई गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here