सीएम योगी आदित्यनाथ की कथित प्रेमिका वाला वीडियो ट्वीट करने पर यूपी पुलिस ने पत्रकार को दिल्ली से किया गिरफ्तार, पत्रकारों ने जताई नाराजगी

0

उत्तर प्रदेश पुलिस ने कथित तौर पर एक स्वतंत्र पत्रकार को दिल्ली से गिरफ्तार किया। क्योंकि उसने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर एक महिला का वीडियो शेयर किया था जिसमें वह दावा कर रही है कि वह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ काफी दिनों से संपर्क में थी।

पत्रकार

कई पत्रकारों के अनुसार, पत्रकार प्रशांत जगदीश कनौजिया (Prashant Jagdish Kanojia) को दिल्ली में उनके घर से उठाया गया और लखनऊ ले जाया गया। इस बीच, दिल्ली पुलिस को पत्रकार की गिरफ्तारी के बारे में जानकारी दे दी गई है।

दरअसल, प्रशांत ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर एक महिला के वीडियो पर अपनी टिप्पणी की थी, जिसमे वो खुद को सीएम योगी आदित्यनाथ की प्रेमिका होने को दावा कर रही है। प्रशांत ने इसी वीडियो को शेयर करते हुए लिखा था, “इश्क छुपता नहीं छुपाने से योगी जी”

प्रशांत ने जो वीडियो शेयर किया है उसमें दिख रहा है कि एक महिला कथित तौर पर खुद को सीएम योगी की प्रेमिका बता रही है और दावा कर रही है कि योगी आदित्यनाथ पिछले एक वर्ष से उससे वीडियो कॉल पर बात भी करते हैं। महिला वीडियो में दावा कर रहीं है कि वह 100 रुपये के स्टांप पर प्रेम पत्र लिखकर आई है। महिला वह पत्र CM योगी को सीधे सौंपना चाहती थी और इस प्रेम पत्र में उसने बहुत कुछ लिखा था।

प्रशांत की गिरफ्तारी पर सोशल मीडिया यूजर्स सहित कई पत्रकारों ने नराजगी सताई है। बहुजन वौइस् नाम के एक यूजर ने लिखा, “पत्रकार प्रशांत कन्नौजिया अरेस्ट कर लिए गए, क्योंकि वे हमेशा सत्ता पक्ष से सवाल करने वालों में शामिल थे। इस बार उन्होंने योगी जी की कथित प्रेमिका का वीडियो शेयर किया था। शायद उनकी गिरफ्तारी का मूल कारण है। उनको लखनऊ लाया जा रहा है।”

पत्रकार यशवंत सिन्हा ने लिखा, “पत्रकार प्रशांत कन्नौजिया को अरेस्ट कराना योगी सरकार की इमेच्योर हरकत!” रितेश नाम के एक यूजर ने लिखा, “योगी सरकार नहीं बर्दाश्त कर पा रही है अपनी आलोचना, गिरफ़्तार किया पत्रकार प्रशांत कनौजिया को। विरोध के आवाज़ को इस क़दर दबाया जा रहा है। एक डर का माहौल बनाया जा रहा है।” बता दें कि, इसी तरह तमाम लोग प्रशांत की गिरफ्तारी पर नाराजगी जता रहें है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here