उत्तर प्रदेश: ‘गैंगरेप’ के बाद दो बच्चों की मां को मंदिर की यज्ञशाला में जिंदा जलाया, पुलिस की गिरफ्त से अभी भी आरोपी फरार

0

उत्‍तर प्रदेश के संभल में हैरान करने वाली दुस्‍साहसिक घटना सामने आई है। यहां एक महिला के साथ दबंगों ने पहले तो गैंगरेप किया। इसके बाद उनकी प‍हचान न उजागर हो इसके लिए उन्‍होंने पीड़ित महिला को ही जिंदा जला दिया। रिपोर्ट के मुताबिक संभल जिले में पांच लोगों ने कथित तौर पर 35 वर्षीय एक महिला का गैंगरेप किया और बाद में उसे एक मंदिर ले जाकर जिंदा जला दिया। महिला के घर के पास ही मंदिर था जहां इस शर्मनाक घटना को अंजाम दिया गया। फिलहाल पांचों आरोपी गांव से फरार हैं।

अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ़ इंडिया की खबर के मुताबिक महिला के मजदूर पति ने दावा किया है कि जलाए जाने से कुछ मिनट पहले महिला ने पुलिस हेल्पलाइन पर फोन किया था, लेकिन पुलिस द्वारा कोई मदद नहीं मिल सकी। हालांकि ‘जनता का रिपोर्टर’ से बातचीत में पुलिस इन आरोपों को खारिज कर दिया है। पुलिस के मुताबिक राजपुरा पुलिस स्टेशन के तहत आने वाले एक गांव में ये महिला अपने घर में सो रही थी तभी पांच लोगों ने घर में घुसकर उसका बारी-बारी से रेप किया।

महिला के पति ने बताया कि रेप के बाद महिला ने इसकी जानकारी फोन पर अपने भाई को दी थी। इससे पहले कि उनका भाई पुलिस को जानकारी दे पाता, बलात्कारी वापस लौटे और महिला को खींचकर बाहर ले गए और जिंदा जला दिए। यह घटना संभल जिले के रजपुरा थाना क्षेत्र के पाठकपुर गांव की है। दबंगों के कहर का शिकार हुई महिला का पति गाजियाबाद में मेहनत मजदूरी करता है। महिला गांव के कोने में बनी झोपड़ी में रहती थी।

पुलिस की गिरफ्त से आरोपी फरार

राजपुरा पुलिस स्टेशन के एसएचओ अरुण कुमार ने “जनता का रिपोर्टर” से बातचीत में बताया कि रिपोर्ट लिखे जाने तक पुलिस ने कोई गिरफ्तारी नहीं की है। उन्होंने कहा कि जल्द ही पुलिस पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लेगी। पुलिस के मुताबिक यह घटना शनिवार रात करीब 2.30 बजे की है, लेकिन सुबह 6.30 बजे के करीब उन्हें इस घटना की जानकारी मिली।

अरुण कुमार ने बताया कि पति द्वारा दर्ज कराई गई एफआईआर के मुताबिक घटना से पहले महिला अपने घर पर सो रही थी और पांचों आरोपी शनिवार (14 जुलाई) रात करीब ढाई बजे उसके घर में जबरदस्ती घुस गए और उसके साथ बलात्कार किया। उन्होंने बताया कि गैंगरेप के बाद आरोपियों ने महिला को घसीटते हुए पास के मंदिर में ले गए। यहां मंदिर की यज्ञशाला में पांचों ने मिलकर उसे जिंदा जला दिया।

पुलिस ने इस मामले में पांच लोगों के खिलाफ गैंगरेप और हत्या के आरोप में एफआईआर दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। उन्होंने बताया, ‘आईपीसी की धारा 376 डी (गैंगरेप), 302 (हत्या), 201 (जुर्म के सबूतों को मिटाना), 147 (दंगों के लिए सजा) और 149 के तहत एफआईआर दर्ज की जा चुकी है।

अभियुक्तों की पहचान आराम सिंह, महावीर, चरण सिंह, गुल्लू और कुमरपाल के रूप में हुई है। पुलिस के मुताबिक पांचो अभियुक्त भी उसी गांव से हैं, जिसमें महिला रहती थी। पुलिस ने बताया कि पांचों आरोपी चाचा-भतीजा लगते हैं। आरोप है कि वे बीते कुछ महीनों से ये आरोपी महिला को परेशान कर रहे थे। पुलिस ने बताया कि महिल दो (12-3 साल) बच्चों की मां है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here