राज्यपाल राम नाईक ने CM आदित्यनाथ को लिखा पत्र, कहा- आजम खान के खिलाफ करें उचित कार्रवाई

0

उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने सूबे के पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खान पर वक्फ सम्पत्तियों में खुर्द-बुर्द के आरोपों की जांच की मांग की अर्जी अपने पत्र के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पास यथोचित कार्रवाई के लिए भेजी है।राजभवन के सूत्रों ने गुरुवार(4 मई) को बताया कि रामपुर के फैसल लाला नामक व्यक्ति ने हाल में राज्यपाल को भेजी गई शिकायत में प्रदेश के पूर्व वक्फ मंत्री आजम खान पर रामपुर की वक्फ सम्पत्तियों पर कब्जे और खुर्द-बुर्द करने का आरोप लगाते हुए इसकी जांच की मांग की थी।उन्होंने बताया कि राज्यपाल ने उस प्रत्यावेदन को गत 24 अप्रैल को यथोचित कार्रवाई के लिए मुख्यमंत्री के पास भेज दिया है। इस बीच, खान ने अपने खिलाफ हुई शिकायत पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि जो जमीन पर बोझ होता है, उसकी शिकायत नहीं होती है। भौंकने वाले मेरे पीछे इतने भौंकते हैं कि मेरी सारी जिंदगी भगाने में गुजर गई है।

बता दें कि पिछले 10 साल के दौरान वक्फ सम्पत्तियों में हुए कथित खुर्द-बुर्द की विभिन्न शिकायतों की वक्फ काउंसिल ऑफ इण्डिया द्वारा कराई गई जांच में पूर्व वक्फ मंत्री आजम खान और शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी समेत कई लोगों की भूमिका संदिग्ध मानी गई है।

प्रदेश के वक्फ राज्यमंत्री मोहसिन रजा ने पीटीआई को बताया कि उन्होंने शिया तथा सुन्नी दोनों ही वक्फ बोर्डों में व्याप्त भ्रष्टाचार के सिलसिले में वक्फ काउंसिल की रिपोर्ट मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सौंप दी हैं। अब मुख्यमंत्री ही तय करेंगे कि इस मामले की किस एजेंसी से जांच कराई जाएगी, क्योंकि कुछ शिकायतों में सीबीआई जांच की मांग भी की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here