केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने विधानसभा चुनाव में बीजेपी की हार के बाद शेयर की राहुल गांधी की फेक न्यूज़, यूजर्स ने उड़ाई खिल्ली

0

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने हाल ही में राइट विंग (दक्षिणपंथी संगठन) यूजर द्वारा किए गए एक वीडियो पोस्ट को रीट्वीट किया है, जिसने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव जीतने के बाद किसानों की कर्ज़माफी के मुद्दे पर यू-टर्न मारने को लेकर बनाया गया था।

स्मृति ईरानी

दरअसल, पवन दुर्रानी नाम के एक यूजर ने अपने ट्वीटर अकाउंट पर राहुल गांधी के दो छोटे वीडियो पोस्ट किए, जिसे केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने शेयर किया है। वीडियो को राहुल गांधी के दो अलग-अलग क्लिप्स को मिक्स करके बनाया गया है। जिसमें इस बात को साबित करने की कोशिश की गई है कि मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की जीत के बाद राहुल गांधी किसानों का कर्ज माफ करने वाले अपने वादे से पलट गए।

पहली क्लिप राहुल गांधी की चुनावी रैली की है, जिसमें वह मध्य प्रदेश में भाषण देते हुए मतदाताओं से वादा कर रहें है कि राज्य में सरकार बनने के बाद 10 दिनों के अंदर किसानों का कर्ज़ माफ किया जाएंगा। वहीं, दूसरी क्लिप राहुल गांधी की प्रेस कांफ्रेंस की है, जो उन्होंने विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद की थी। दूसरी क्लिप में राहुल गांधी यह कहते हुए सुनाई दे रहे हैं कि, कर्ज़ माफ़ी सोल्युशन नहीं है, सोल्युशन ज्यादा कॉम्प्लेक्स होगा, सोल्युशन किसानों को सपोर्ट करने का हो, सोल्युशन आसान नहीं है।

बता दें कि दूसरे क्लिप में राहुल गांधी के सिर्फ इसी बयान को उठाया गया है, जिससे यह साबित करने के कोशिश की गई है कि कांग्रेस की जीत के बाद राहुल गांधी किसानों का कर्ज माफ करने वाले अपने वादे से पलट गए। जबकि राहुल गांधी की प्रेस कॉन्फ्रेंस को देखा जाए तो उन्होंने कहीं भी ऐसा नहीं कहा कि वह किसानों का कर्ज़ माफ नहीं करेंगे।

इस पर लोगों ने तरह-तरह की प्रति​क्रियाएं दी हैं। कुछ लोग कह रहे हैं कि स्मृति ईरानी राहुल गांधी से डर गई हैं? एक यूजर ने लिखा, “हाई प्रोफाइल लोगों ने रिट्वीट कर दिया पर पूरा सुना ही नहीं पूरा सुनो उन्होंने कहा कर्ज़ माफी सलूशन नहीं हम सलूशन के लिए काम करेंगे।” एक अन्य यूजर ने लिखा, “काहे जनता में इडिटेड विडियो दिखाकर झूठ फैला रहे हो?” एक अन्य यूजर ने लिखा, पवन दुर्रानी सर, बुरा मत मानना लेकिन आप जैसे लोगों की वजह से ही बीजेपी की हार हुई है, आप लोगों को इधर उधर की बातों की जगह सरकार को सच से अवगत कराकर जनहित में कार्य करना चाहिए।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “इस तरह की गलत वीडियो एडिट की हुई जब स्मृति ईरानी जैसे लोग रिट्वीट करते हैं तो अफसोस होता है कि यह अमेठी विधानसभा से चुनाव जीतेंगे तो एक बात साफ कर देना चाहते हैं अमेठी की जनता ऐसे झूठे लोगों के साथ नहीं है जो गलत के साथ खड़े हैं मैं भी अमेठी विधानसभा से हूं मेरा वोट कभी नहीं।”

दरअसल, प्रेस कांफ्रेंस में राहुल गांधी ने कहा था कि कर्ज माफी एक सपोर्टिंग स्टेप है। कर्ज माफी सोल्युशन नहीं है। सोल्युशन ज़्यादा काम्प्लेक्स होगा। सोल्युशन किसानों को सपोर्ट करने का होगा, इंफ़्रास्ट्रक्चर बनाने का होगा, टेक्नोलॉजी देने का होगा और फ्रैंकली बोलूं तो सोल्यूशन आसान नहीं है, सॉल्यूशन चैलेंजिंग चीज़ है और हम उसको करके दिखाएंगे। किसानों के साथ हमें काम करना पड़ेगा, देश की जनता के साथ काम करना पड़ेगा, और वो हम करेंगे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here