पीएम मोदी के मंत्री ने कहा- राम मंदिर कभी नहीं रहा बीजेपी का चुनावी मुद्दा और 2019 में भी नहीं रहेगा, देखिए वीडियो

0

आपके अक्सर देखा और सुना होगा कि, भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) हर चुनावी वादों में राम मंदिर बनवाने का वादा करते हैं लेकिन केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री शिव प्रताप शुक्ला ने कहा कि बीजेपी के लिए राम मंदिर चुनावी मुददा नहीं है और ना ही यह मुद्दा बीजेपी के लिए कभी चुनावी मुद्दा रहा है।

Ram Mandir

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, सोमवार को उत्तर प्रदेश के बरेली जिले में सर्किट हाउस पहुंचे भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) के वरिष्ठ नेता व केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री शिव प्रताप शुक्ला ने कहा कि बीजेपी के लिए राम मंदिर चुनावी मुददा नहीं है और ना ही यह मुद्दा बीजेपी के लिए कभी चुनावी मुद्दा रहा है और लोकसभा चुनाव 2019 में भी नहीं रहेगा। राम मंदिर बीजेपी और हिंदुओं की आस्था का प्रतीक है। बीजेपी की मंदिर में आस्था है लेकिन यह चुनावी मुद्दा नहीं होगा।

साथ ही उन्होंने कहा, महागठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा कि 2019 में बीजेपी की पूर्ण बहुमत वाली सरकार बनेगी, विपक्ष चाहे जितने गठबंधन बना लें। बता दें कि, उनके इस बयान का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री शिव प्रताप शुक्ला का पूरा वीडियो देखने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें।

बता दें कि, शिव प्रताप शुक्ला के इस बयान की सोशल मीडिया यूजर्स जमकर अलोचना कर रहें है। यूजर्स का कहना है कि, ‘राम’ का नाम जपने से जिस बीजेपी को सत्ता मिली आज उसी के मंत्री कह रहे है कि राम मंदिर कभी चुनावी मुद्दा नहीं रहा और ना ही रहेगा।

देखिए कुछ ऐसे ही ट्वीट :

https://twitter.com/PPandit_/status/1006192214026924033

https://twitter.com/Doll76466694/status/1006186529939644416

बता दें कि, पिछले दिनों बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने लाइव टीवी शो के दौरान यह लिखकर दिया था कि राम मंदिर अयोध्या में ही बनेगा। संबित पात्रा ने मुंबई में आयोजित इंडिया टुडे कॉन्क्लेव 2018 में मंदिर के लिए लिखकर वादा किया। उनके बगल में कांग्रेस नेता संजय निरूपम बैठे थे।

संबित पात्रा ने उनसे कहा- ‘आज आप कागज लेके आए हैं, मैं इस कागज में लिख देता हूं राम का मंदिर वहीं बनेगा… राम का मंदिर वहीं बनेगा, लिख के लो मंदिर वहीं बनेगा।’ यह कहते हुए उन्होंने लाइव शो में पेन से कागज पर अपना वादा लिखा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here