तस्वीर हटाने के बाद अब ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी आंग सान सू ची से वापस लिया ‘फ्रीडम ऑफ ऑक्सफोर्ड’ सम्मान

0

सिटी ऑफ ऑक्सफर्ड ने म्यांमार की नेता आंग सान सू ची को दिया गया सम्मान वापस ले लिया है। आंग सान सू ची का ये सम्मान उनके देश में रोहिंग्या मुसलमानों की दुर्दशा पर उनके द्वारा कथित समुचित कदम नहीं उठाने पर वापस लिया गया है।

बता दें कि सू की अप्रैल 2016 से म्यांमार की स्टेट काउंसलर हैं। यह पद देश के प्रधानमंत्री पद के समान है। ऑक्सफोर्ड सिटी काउंसिल ने म्यांमार की इस नेता को लोकतंत्र के लिए लंबा संघर्ष करने को लेकर साल 1997 में ‘फ्रीडम ऑफ ऑक्सफोर्ड’ प्रदान किया था।

सोमवार को परिषद ने सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित किया कि उनके पास यह सम्मान होना अब उपयुक्त नहीं है। ऑक्सफोर्ड सिटी काउंसिल के नेता बॉब प्राइस ने उनका सम्मान वापस लेने के कदम का स्वागत किया और इस बात की पुष्टि की कि यह स्थानीय प्रशासन के लिए ‘अप्रत्याशित कदम है।’ सिटी काउंसिल इस बात के सत्यापन के लिए 27 नवंबर को एक विशेष बैठक करेगी कि यह सम्मान वापस लिया जाए।

आपको बता दे कि इससे पूर्व ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय ने बर्मा की सेना द्वारा रोहिंग्या मुसलमानों पर हुए जातीय नरसंहार की निंदा के बीच नोबेल पुरस्कार विजेता ‘आंग सान सू’ की एक तस्वीर को हटा दिया था। नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित सू ची इन दिनों रोहिंग्या मुस्लिमों पर म्यांमार सेना के कथित अत्याचारों की वजह से दुनियाभर में आलोचनाओं का सामना कर रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here